संगरूर : एटीएम कार्ड से धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

0
Fraud

अंतरराज्जीय गिरोह के 7 सदस्य गिरफ्तार | Fraud

  • आरोपी 9 राज्यों में 90 से अधिक घटनाओं को दे चुके हैं अंजाम
  • पुलिस ने आरोपियों से साढ़े चार की नकदी, सकिंमिंग मशीन और अन्य समान करवाया बरामद

संगरूर(सच कहूँ/गुरप्रीत सिंह)। संगरूर पुलिस के हाथ उस समय पर बड़ी सफलता लगी (Fraud) जब एटीएम के द्वारा लोगों के साथ धोखाधड़ी करने वाला अंतर राज्जीय गिरोह पुलिस के हत्थे चढ़ गया। संगरूर पुलिस इस गैंग के पीछे काफी समय से लगी हुई थी। पुलिस के बताने मुताबिक इस गिरोह के 7 सदस्यों को गिरफ़्तार कर उनके पास से बड़ी संख्या में एटीएम कार्ड, सकिमिंग डिवाइस, साढ़े चार लाख की नकदी एक कार व अन्य समान बरामद किया है। इस संबंधी आयोजित प्रैस कान्फ्रÞेंस में जिला पुलिस प्रमुख डॉ. सन्दीप गर्ग ने बताया कि संगरूर पुलिस के हाथ आज एक बड़ी सफलता लगी है।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने एटीएम कार्डों के द्वारा लोगों के साथ धोखाधड़ी करने वाले गिरोह के 7 सदस्यों को गिरफ़्तार किया है और इनके पास से 64 एटीएम कार्ड, 1 सकिमिंग डिवाइस, 4 लाख 54 हजार की नकदी, एक कार व अन्य सामान बरामद किया है। उन्होंने बताया कि गिरफ़्तार किए गए सभी कथित आरोपियों की आयु लगभग 23 -24 साल के करीब है और यह गिरोह पिछले पांच सालों से पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, चण्डीगढ़, दिल्ली, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ के करीब 90 शहरों में ऐसी घटनाआें को अंजाम दे चुके हैं। उन्होंने दावा किया कि लूटी गई रकम की राशि 50 लाख से भी अधिक हो सकती है और इस संबंधी गहराई से इनसे पूछताछ की जा रही है।

इन आरोपियों को किया गया गिरफ्तार| Fraud

डॉ. गर्ग ने बताया कि गिरफ़्तार हुए कथित दोषियों में राजू कुमार उर्फ राजू निवासी और बबलू कुमार उर्फ बल्लू पुत्र धर्मपाल सिंधु मुरथली, पिहोवा जिला कुरूक्षेत्र (हरियाणा) यह गैंग के मुख्य सरगना थे। इसके अलावा प्रवीन कुमार पुत्र सुरेश निवासी जिला कुरूक्षेत्र, राजेश उर्फ लाल पुत्र हुक्म चंद निवासी पिहोवा, दिनेश कुमार पुत्र रमेश कुमार निवासी भिवानी खेड़ा जिला भिवानी, बिट्टू पुत्र जगवीर सिंह निवासी सिरटा कैथल, रणधीर उर्फ धीरा पुत्र गयाना राम निवासी कमांड पट्टी जखौली जिला कैथल के नाम शामिल हैं। इसके अलावा पुलिस ने 6 अन्य सदस्यों के खिलाफ मामला दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

पुलिस ने आरोपियों को इस तरह किया गिरफ्तार

जिला पुलिस प्रमुख ने बताया कि संगरूर पुलिस की ओर से इस गैंग का पर्दाफाश करने के लिए काफी समय से चौक न्नी थी पुलिस की तरफ से इनको काबू करने के लिए एटीऐमज की सीसीटीवी फुटेज, मोबाईल टावर, नैटवर्किंग व अन्य तरीकों के साथ पकड़ा गया। उन्होंने बताया कि पुलिस की ओर से इनसे गहराई से पूछताछ की जा रही है, इनके तरफ से ओर भी बड़े मामलों के खुलासे होने की संभावनाएं हैं।

आरोपी इस तरह देते थे वारदातों को अंजाम

  • जिला पुलिस प्रमुख ने बताया कि कथित आरोपियों पूछताछ दौरान पता चला है
  • वह भोले भाले लोगों को गुमराह कर उनका एटीएम बदल कर उनके साथ धोखाधड़ी करते थे।
  • भोले भाले लोगों को एटीएम में से पैसे निकलवाने की मदद करने का दिखावा कर
  • हाथ की सफाई के साथ अपने हाथ में छुपाए हुए सकिमिंग डिवाइस की मदद
  • उनके एटीएम को स्वाईप कर बाद में स्वाईप किए एटीएम का क्लोन तैयार लेते थे ।
  • उनके साथ ठगी की घटना को अंजाम देते थे।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।