हरियाणा

हरियाणा को जलाने व बांटने वालों को सबक सिखाएगी जनता

ashok tanwar

लोकसभा चुनाव की जंग में कांग्रेस पार्टी इस बार हरियाणा में जबरदस्त तैयारी के साथ रण में है क्योंकि 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को हरियाणा में महज एक रोहतक सीट से संतोष करना पड़ा था लेकिन इस बार कांग्रेस हरियाणा की 10 की 10 सीटों पर विजय पताका फहराने के लिए पूरी शिद्दत से जुटी है। हरियाणा का किला फतह करने के लिए कैसी है पार्टी की तैयारी और सरसा सीट पर क्या मिल रहा है रिस्पोंस। इस बाबत सच कहूँ ने कांग्रेस के हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष व सरसा लोकसभा सीट से उम्मीदवार डॉ. अशोक तंवर से बातचीत की। उन्होंने कहा कि 2009-14 के कांग्रेस कार्यकाल के समय जो प्रोजेक्ट अधूरे रह गए थे, उन्हें इस बार पूरा करने का प्रयास किया जाएगा।

प्रदेश के विकास के लिए 45 हजार करोड़ के बजट को एक लाख करोड़ तक तक ले जाया जाएगा। भाजपा पर धर्म और जाति की राजनीति कर लोगों को विभाजित करके अपनी रोटियां सेंकने के आरोप लगाते हुए उन्होंने दो टूक कहा कि अब उनका सफाया करने का सही समय है। उन्होंने प्रदेश के लोगों से आह्वान किया कि जिन लोगों ने बार-बार हरियाणा को जलाया, उन्हें इस बार सबक जरूर सिखाएं। पेश हैं संदीप कम्बोज, रविंद्र रियाज, सुनील वर्मा और अनिल कक्कड़ द्वारा कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर संग की गई बातचीत के मुख्य अंश:-

हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर पर जहां पूरे प्रदेश की 10 की 10 सीटें जीतने की चुनौती है वहीं वह खुद भी सरसा लोकसभा सीट पर चुनाव मैदान में हैं। प्रदेश के विकास के सवाल पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का कहना है कि विकास के मामले में पहले जो नहीं कर पाए, उसे इस बार हर हाल में करने का प्रयास करेंगे। सबसे पहला सपना तो सरसा का आद्यौगिकरण करना है ताकि युवाओं को ज्यादा से ज्यादा रोजगार मिले। दूसरा इलाके की सबसे बड़ी समस्या घग्गर की समस्या है जिसकी वजह से कैंसर जैसी भयानक बीमारी पैर पसार रही है। लोकसभा क्षेत्र में और भी स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हैं जिन्हें हल करने का प्रयास करेंगे।

ज्यादा से ज्यादा यूनिवर्सिटीज, कॉलेज व मेडीकल कॉलेज आदि खुलवाएंगे। इसके साथ-साथ सरसा-फतेहाबाद-अग्रोहा-हिसार रेल लाइन प्रोजेक्ट को हमने मंजूर करवाया था जिसे भाजपा ने ठंडे बस्ते में डाल दिया, उसे भी पूरा करने का प्रयास करेंगे। हमारी प्राथमिकताएं बहुत हैं। जिस तरह से सरसा क्षेत्र की अनदेखी हो रही है, सरसा के नौजवानों को रोजागर नहीं मिल रहा, किसानों की सिंचाई की समस्या के समाधान के लिए नई नहर निकलवाएंगे, जिन गांवों शहरों में पीने के पानी की समस्या है, उसका भी तुरंत प्रभाव से समाधान किया जाएगा।

जाति व धर्म की राजनीति करने वालों का अब सफाया करने का समय

भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर आरोप लगाते हुए प्रदेशाध्यक्ष तंवर ने कहा कि अलग-अलग जगहों पर सैकड़ों निर्दोष लोगों को मरवाया। कभी पंचकूला में निर्दोष डेरा प्रमियों को मारा गया तो कभी रोहतक, झज्जर व हिसार मेंं भी बड़ी घटनाएं घटी। तो कहीं न कहीं यह भारतीय जनता पार्टी की जो सोची समझी रणनीति और राजनीति है। भाजपा की यह जो जहर की राजनीति है, धर्म की राजनीति है, जाति की राजनीति है, लोगों को विभाजित करके अपनी रोटियां सेंकने की जो राजनीति है तो अब उसे सफाया करने का समय है।

मोदी सरकार ने की हरियाणा की अनदेखी

केंद्र मेंं जो मोदी सरकार आज बैठी है उन्होंने पूरी तरह से हरियाणा की अनदेखी की। मोदी सरकार ने एक भी हाईवे नहीं बनवाया। सभी प्रोजेक्ट कांग्रेस कार्यकाल में ही शुरू हुए थे। इन सब बातों को जनता भली-भांति समझती है। चाहे वो गांवों की पेयजल आदि की समस्या हो या शहरों की सीवरेज आदि की समस्याएं हों, इन्हें दूर करने के ल्एि हमने जी तोड़ प्रयास किये। 45 हजार करोड़ के बजट को एक लाख करोड़ तक कैसे पहुंचाया जाए, इसके लिए कांग्रेस प्रयास करेगी।

किसानों का अलग बजट, माफ होगा कर्ज

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि घोषणा पत्र में हमने साफ तौर पर कहा है कि सरकार बनने के बाद हर गरीब व्यक्ति को 72 हजार रूपए सालाना देंगे। देश में गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे 25 करोड़ परिवारों को इससे ऊपर उठाने का प्रयास किया जाएगा। किसानों का अलग बजट होगा। किसानों और गरीबों के कर्जे माफ होंगे। नए रोजगार के साधन पैदा करने के लिए प्रयास होगा।

हमारी टिकटें तो बहुतम पहले से फाइनल थी

टिकट वितरण में देरी के सवाल पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डॉ. तंवर ने कहा कि हमारी टिकटें तो बहुत पहले ही फाइनल हो चुकी थी। टिकट वितरण में हर पार्टी का अपना-अपना समय होता है। ऐसे तो भारतीय जनता पार्टी ने भी कुछ उम्मीदवारोंं का नाम बाद में फाइनल किया। आम आदमी पार्टी, जेजेपी ने भी बहुत देरी की। तो ऐसा कुछ नहीं है।

मोदी व खट्टर सरकार ने रोजगार देने की बजाए छीना

मनोहर सरकार द्वारा पारदर्शिता से की गई 50 हजार भर्तियों के सवाल पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि कोई 50 हजार नौकरी नहीं दी गई। पीएम मोदी ने तो ये कहा था कि मैं 2 करोड़ लोगों को रोजगार दूंगा। तो मनोहर लाल खट्टर ने भी हर साल 5 लाख नौकरियां देने का वादा किया था तो इस हिसाब से मोदी के बनते हैं 10 करोड़ तो खट्टर के बनते हैं 25 लाख। लेकिन इतनी नौकरियां व रोजगार दिया कहाँ बल्कि लोगों का रोजगार छीन लिया। ऊपर से साढ़े 14 करोड़ लोगों को बेरोजगार कर दिया।

बयानबाजी में न लांघें मयार्दाएं

आजकल राजनीतिक मंचों पर नेताओं द्वारा चुनावी बयानबाजी पर डॉ. तंवर ने कहा कि बस इतना ध्यान रहे कि बयानबाजी का स्तर घटिया नहीं होना चाहिए। मयार्दाओं का उल्लंघन नहीं होना चाहिए और यदि कोई करता है तो इलैक्शन कमीशन उस पर संज्ञान ले।

भाजपा राज में बढ़ा 10 गुना भ्रष्टाचार, भाजपा के शीर्ष नेता भी लिप्त

कांग्रेस पार्टी के नेताओं पर लगे भ्रष्टाचार के गंभीर आरोपों पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सब झूठे और बेबुनियाद आरोप हैं। आप खुद देखिए पांच साल में लंबी जांच के बाद क्या निकलकर सामने आया है। भ्रष्टाचारी तो भारतीय जनता पार्टी के लोग हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि नोटबंदी के समय भाजपा के नेताओं ने 8 से 10 लाख करोड़ कमाए। नोटबंदी में भाजपा नेताओं ने 3 लाख करोड़ के नकली नोट खपा दिए। रेता-बजरी पत्थर में हरियाणा में 3 लाख करोड़ रूपए का बड़ा घोटाला हुआ। राफेल घोटाला पूरे देश के सामने है।

रक्षा सौदे के नाम पर दलाली खा गए। भाजपा राज में आज 10 गुना भ्रष्टाचार बढ़ गया। जगह-जगह आज भू-माफिया सक्रिय हैं। मोदी के बड़े-बड़े उद्योगपति मित्रों को विदेशों में भगाकर उनके कर्ज माफ कर दिए, यही तो भ्रष्टाचार है। ये तो चंद उदाहरण मात्र हैं। मैं ऐसे सैकड़ों उदाहरण दे सकता हूँ कि जिनमें भाजपा के शीर्ष नेता भ्रष्टाचार में लिप्त पाए गए हैं। मैं यह समझता हूँ कि पूरा देश भाजपा नेताओं के कारनामों को अच्छी तरह से जानता है जिसका मजा जनता इन्हें इस चुनाव में चखाएगी।

सरसा के पिछड़ेपन के लिए इनेलो-भाजपा दोनों दोषी

सरसा के वर्तमान इनेलो सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी के पांच साल के कार्यकाल के सवाल पर डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि बेचारे सांसद ने कुछ विकास किया हो तो संतुष्ट भी होते। सरसा के पिछडेÞपन के लिए जिस तरह से इनेलो दोषी है, उसी तरह से भाजपा भी दोषी है। यहां सांसद इनेलो के थे लेकिन केंद्र व राज्य में सरकार तो भाजपा की ही थी। सांसद महोदय कहते हैं कि मैंने निष्पक्ष काम किया है लेकिन करोड़ों की बात तो दूर कई गांवों को लाख-लाख रूपए भी मुश्किल से नसीब हुए हैं। और सरसा के विकास पर भारतीय जनता पार्टी द्वारा हजारों करोड़ रूपए खर्च करना तो एक सपना ही है।

सरसा का करेंगे औद्योगिकीकरण

2009 से 2014 के दौरान जब हरियाणा मेंं कांग्रेस की सरकार रही हरियाणा में 45 हजार करोड़ के प्रोजेक्ट हम लेकर आए लेकिन कुछ प्रोजेक्ट को भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने रोक लगा दी। पूरे हरियाणा में बिजली की किल्लत को दूर करने के लिए 1500 करोड़ की लागत से बनने वाला 2800 मैगावाट न्यूक्लीयर प्लांट, नेशनल हाइवे, रेलवे लाइन के प्रोजेक्ट, इसके साथ-साथ शिक्षा स्वास्थ्य से जुड़े हुए तमाम आरोही मॉडल स्कूल, नए-नए कॉलेज, विवि के प्रोजेक्ट हमारी सरकार ने शुरू किए। सरसा का ज्यादा से ज्यादा औद्योगिकीकरण कैसे हो, कैसे यहां नए उद्योग स्थापित हों, इसके लिए कांग्रेस पार्टी पुरजोर प्रयास करेगी।

राहुल गांधी को देंगे 10 की 10 सीटों का तोहफा

प्रदेश की सभी 10 की 10 सीटों पर जीत के सवाल पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि वे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को हरियाणा की सभी 10 की 10 सीटों का तोहफा देंगे। राहुल गांधी प्रधानमंत्री होंगे और उन्होंने फिर दोहराया कि हर गरीब के खाते में 72 हजार रूपए डाले जाएंगे, किसान-मजदूर को ताकत मिलेगी। उनके कर्जे माफ होंगे। जिस तरह पीछले पांच साल में निवेश घट गया उससे साफ है कि पूरी दुनिया का विश्वास हमारे देश से उठ गया। दिल्ली को रेप की राजधानी बना दिया। ना ही तो माताएं-बहनें भी सुरक्षित हैं ओर ना ही छोटा व्यापारी। इस मोदी राज में सुरक्षित तो केवल चंद पूंजीपति हैं।

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने यह दिया जनता के नाम संदेश

हरियाणा के मतदाताओं को संदेश देते हुए कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि जिन लोगों ने बार-बार हरियाणा को जलाया, उन्हें इस बार सबक जरूर सिखाएं। उन्होंने प्रदेश की की जनता से अपील व अनुरोध करते हुए कहा कि जनता उठे और महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार व प्रदेश को जलाने व बांटने वालों के खिलाफ एक बड़ा जनादेश देकर सरसा से लेकर पूरे हरियाणा की 10 की सीटें कांग्रेस पार्टी को जीताएं। डॉ. तंवर ने भरोसा जताया कि उन्होंने जनता के भरपूर सहयोग और आशीर्वाद से कांग्रेस पार्टी इस लक्ष्य की प्राप्ति करेगी। और आगे 3-4 महीने के बाद जब हरियाणा में विधानसभा चुनाव होंगे तो फिर कांग्रेस की सरकार भारी बहुमत से बनेगी।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019