Breaking News

सीएम के समक्ष रखा बंद स्पिनिंग मिल व सिंचाई पानी का मुद्दा

ashok gehlot

डॉ. सौरभ राठौड़ ने श्रीगंगानगर दौरे पर आए मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री से की मुलाकात

हनुमानगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। श्रीगंगानगर संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी मास्टर भरतराम मेघवाल के नामांकन दाखिल करने के दौरान आयोजित हुई जनसभा को संबोधित करने आए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट से हनुमानगढ़ कांग्रेस नेता डॉ. सौरभ राठौड़ ने मुलाकात की। इस दौरान राठौड़ ने बंद पड़ी स्पिनिंग मिल चालू करवाने, किसानों को पूरा सिंचाई पानी देने व सरसों की खरीद में 40 क्विंटल खरीद शुरू करने का मुद्दा रखा।

जनसभा से पहले केएलएम होटल प्रांगण में मुलाकात के दौरान क्षेत्र के कार्यकतार्ओं के साथ मिले डॉ. सौरभ राठौड़ ने हनुमानगढ़ की बंद पड़ी स्पिनिंग मिल को चालू करवाने, समायोजन से वंचित सभी श्रमिकों का जल्द से जल्द स्थाई समायोजन करवाने, हनुमानगढ़ जंक्शन में जल्द से जल्द सरकारी अस्पताल को मंजूरी देकर निर्माण कार्य शुरू करवाने एवं क्षेत्र के किसानों को सिंचाई के लिए पूरा पानी देने व सरसों की फसल की 40 क्विंटल तुलाई जल्द से जल्द शुरू करवाने का आग्रह किया।

इस पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने आश्वस्त किया कि लोकसभा चुनाव के बाद प्राथमिकता से हनुमानगढ़ की बंद पड़ी मिल को चालू कराने के लिए कदम उठाए जाएंगे। उससे पूर्व समायोजन से वंचित सभी श्रमिकों को समायोजित भी किया जाएगा। दोनों शीर्ष नेताओं ने एक सुर में कहा कि किसानों को सिंचाई के लिए उनके हक का पूरा पानी मिले और प्रत्येक किसान की सरसों की 40 क्विंटल तुलाई भी जल्द शुरू हो, इसके लिए प्रदेश की सरकार कृत संकल्पित है। गहलोत एवं पायलट ने कहा कि श्रीगंगानगर-हनुमानगढ़ सहित इलाके के विकास में कोई कमी नहीं रखी जाएगी।

साथ ही इस मौके पर गहलोत और पायलट ने पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के 5 वर्षों के कार्यकाल के दौरान किए गए निरंतर जन संघर्ष के लिए डॉ. राठौड़ की पीठ थपथपाई। इस मौके पर राजस्थान किसान कांग्रेस के प्रदेश महासचिव बलकौर सिंह ढिल्लों, श्रीगंगानगर होलसेल भंडार समिति के उपाध्यक्ष श्याम पुनियानी, राजस्थान एनएसयूआई आईटी सेल प्रदेश संयोजक सूरज नारायण शर्मा, खुशवंत सिंह संधू, लाखन सिंह मान, बलजिंद्र सिंह ढिल्लों सहित कई कांग्रेसजन मौजूद थे।

मुख्मंत्री ने निभाई मित्रता

स्थानीय विधायक राजकुमार गौड़ ने इलाके की जनता की समस्याओं के संबंध में जिन जिन मुद्दों के बारे में लिखित रूप में सीएम अशोक गहलोत को अवगत कराया, उसके अनुरुप सीएम गहलोत जनसभा में न केवल उठाया बल्कि उसके समाधान के संबंध में राज्य सरकार की ओर से उचित कदम उठाने की बात कही। मुख्यमंत्री ने स्वीकारा कि पंजाब से सिंचाई पानी में रसायनयुक्त पानी इतना जहरीला है कि उसके पीने के लगातार इस्तेमाल से कैंसर जैसी बीमारियां हो रही है, अब पंजाब के सीएम अमरिन्द्र सिंह कैप्टन से व्यक्तिगत रूप से मिलकर स्वच्छ पानी उपलब्ध कराने काप्रयास किया जाएगा।

यहां सुखाड़िया सर्किल रामलीला मैदान में आयोजित जनसभा में गहलोत ने कहा कि गंगनहर और भाखड़ा नहरों में पानी पंजाब से आता है लेकिन पिछले समय से पंजाब में इन नहरों में कैमिकल्सयुक्त पानी राजस्थान में लोगों के स्वास्थ्य पर असर डाल रहा है, अब यह पानी साफ मिले इसके लिए पंजाब के सीएम से मिलकर कारगर योजना तैयार की जाएगी। गहलोत ने कहा कि विधायक राजकुमार गौड़ ने नहरी पानी, स्वच्छ पेयजल और सरकारी मेडिकल कॉलेज का निर्माण कराने की मांग की है, इस पर गहलोत खुलकर बोले कि पांच साल पहले जब मेडिकल कॉलेज निर्माण करने के लिए शिलान्यास के संबंध में वे खुद आए थे। लेकिन वसुंधराजे सरकार ने इस पर कोई काम नहीं किया, यहां तक कि दानदाता ने भी दिलचस्पी नहीं दिखाई।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top