पंजाब

एलओसी पर फायरिंग में शहीद हुआ होशियारपुर का जवान

Army Jawan, Martyred, Firing, LOC, Punjab

संस्कार के लिए आज पैतृक गांव लाया जाएगा शरीर

  • दो महीने पहले ही श्रीनगर में लगी थी ड्यूटी

होशियारपुर (सच कहूँ न्यूज)। हाजीपुर के सिद्धू मोहल्ला निवासी सरदार बख्तावर सिंह राजौरी जिले के नोशहरा सेक्टर में शहीद हो गए। उनके पिता सरदार प्रीतम सिंह रिटायर्ड एक्स सर्विसमैन ने बताया कि उनके चार बच्चे हैं। बेटा बख्तावर सिंह सबसे छोटा था। उन्होंने बताया कि बख्तावर सिंह की यूनिट असम से श्रीनगर दो महीने पहले ही पहुंची थी। बख्तावर की ड्यूटी 1 महीने के लिए बेंगलुरू लगी थी। जब बख्तावर बंगलुरू से ड्यूटी खत्म करके श्रीनगर जा रहा था तो मई महीने में कुछ दिन की छुट्टी हमारे पास बिताकर गया।

बख्तावर ने प्राइमरी और टेन प्लस टू की शिक्षा हाजीपुर के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल से प्राप्त करने के बाद 2003 में सेना में भर्ती हुए बख्तावर सिंह विवाहित हैं। उसकी पत्नी जसवीर कौर बेटा सुखविंदर सिंह 11 वर्षीय, दूसरी बेटी 8 वर्षीय जसप्रीत कौर, तीसरा बेटा 8 महीने का मनजिंदर सिंह है।

बंकर के मुंह पर गिरा गोला

छोटी बेटी जसप्रीत कौर सभी आने जाने वालों को बड़ी उत्सुकता की नजर से देख रही हैं। उसको अभी तक पता नहीं है कि क्या हुआ। पाकिस्तान की तरफ से एक गोला बख्तावर के बंकर के मुंह पर गिरा जिससे वह शहीद हो गया। डेड बाडी चार-पांच बजे तक आने की संभावना है। शहीद की माता और पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top