कैबिनेट : दस बैंकों को मिलाकर चार बैंक बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी

0
Merger of banks

इलाहाबाद बैंक को इंडियन बैंक में मिलाया जाएगा

(Merger of banks)

नई दिल्ली (एजेंसी)। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सार्वजनिक क्षेत्र के 10 बैंकों को मिलाकर चार बैंक बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। बैठक के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि बैंकों के विलय के बेहतर परिणाम सामने आये है।

विजया बैंक, देना बैंक और बडौदा बैंक के विलय से उपभोक्ताओं लाभ हुआ है और ऋण वितरण का समय 27 दिन से घटकर 11 दिन रह गया है। उन्होेंने बताया कि ओरियंटल बैक आॅफ कॉमर्स और युनाईटेड बैंक आॅफ इंडिया का पंजाब नेशनल बैंक में विलय होगा। सिंडीकेट बैंक को केनारा बैंक में मिला दिया जाएगा।

  • आंध्रा बैंक और कापोर्रेशन बैंक का विलय युनियन बैंक आफ इंडिया में किया जाएगा।
  • इलाहाबाद बैंक को इंडियन बैंक में मिलाया जाएगा।
  • बैंकों का विलय एक अप्रैल 2020 से प्रभावी होगा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।