हरियाणा

‘भ्रष्टाचार से नौकरी देने वाले आज जेल में’

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने विपक्ष पर साधा निशाना

रोहतक (सच कहूँ ब्यूरो)। हरियाणा में अब नौकरी पूरी तरह से पारदर्शी सिस्टम में मिलती है। योग्य लोगों को नौकरी के लिए अवसर मिलता है। यह तब संभव हुआ है जब हरियाणा में किसी जाति, वर्ग या परिवार विशेष की नहीं बल्कि हरियाणवी सरकार है। यह बात भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने अपने दौरे के अंतिम दिन महर्षि दयांनद विवि के टैगोर थियेटर में भाजपा मोर्चों के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही। शाह ने विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि भ्रष्टाचार करके नौकरी देने वाले नेता आज जेल में हैं।

हरियाणा में अब पारदर्शी सिस्टम, नौकरी में मेरिट ही आधार

उन्होंने कार्यकर्ताओं से सीधे संवाद करते हुए पूछा कि क्या आपको ऐसी सरकार चाहिए जो भ्रष्ट हो, कार्यकर्ताओं के नहीं कहने पर शाह ने कहा कि फिर तो हरियाणा में आप 5 नहीं 25 साल की सरकार बनाएंगे। कार्यकर्ताओं को मंत्र देते हुए कहा कि हर बूथ पर अपनी ताकत बढ़ाएं और पार्टी की नीतियों व सरकार की योजनाओं को अंतिम आदमी तक पहुंचाएं।

अमित शाह ने कहा कि प्रदेश में ईमानदारी से काम करके मैरिट वाले युवाओं को नौकरी देकर सरकार ने नई मिसाल कायम की है। पुलिस भर्ती, पटवारी, अभियंता सहित कई विभागों की नौकरियों के नाम लेते हुए पार्टी अध्यक्ष ने कहा कि केवल परिवार और कार्यकर्ताओं को नहीं बल्कि योग्यजनों को अवसर मिले, ऐसा सिस्टम अपनाया गया है। उन्होंने कहा कि नौकरी में हमें ये सोच रखनी चाहिए कि भले ही हमारा कोई अपना रह जाए, मगर योग्य नौकरी से वंचित नहीं होना चाहिए।

-फर्जी राशन कार्ड रद्द करने से रूकी करोड़ों की कालाबाजारी

उन्होंने कांग्रेस और इनेलो की सरकारों का जिक्र करते हुए कहा कि उन सरकारों के समय में हरियाणा के योग्य बच्चों में निराशा थी। बच्चों ने पढ़ाई छोड़ दिया था। मगर इस सरकार ने बच्चों के विश्वास को बहाल किया है। अब बच्चे अपने करियर को बनाने के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने लगे हैं। सरकार ने सस्ते राशन के डिपूओं की सप्लाई को डिजीटल करके 38 हजार फर्जी राशन कार्ड पकड़े हैं। इन कार्डों को सस्पेंड करने से करोड़ों की कालाबाजारी को रोका है। इसके अलावा ई-पंजीकरण, ई स्टाम्प, सिंगल विंडो सिस्टम आदि ऐसे अनेक काम किए हैं, जो आम आदमी के लिए लाभकारी सिद्ध हुए हैं।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019