सहयोगियों ने दिखानी शुरू की आंख, खतरे में पड़ सकती है खट्टर सरकार

0
19
Yoga Day

सोमवीर सांगवान ने लिया खट्टर से सरकार समर्थन वापिस

  • किसानों के आंदोलन के चलते भाजपा से बढ़ रही नाराजगी
  • जजपा ने भी भाजपा को दी नसीहत, जल्द करें किसानों के मामले का निपटारा, मांगें हों पूरी

चंडीगढ़(अश्वनी चावला)। हरियाणा सरकार में भारतीय जनता पार्टी की सहयोगी पार्टी ने भी अब आँख दिखानी शुरू कर दी है। इसके चलते हरियाणा में सरकार भी खतरे में पड़ती नजर आ रही है, क्योंकि एक के बाद एक सहयोगी पार्टी और विधायक भाजपा को किसानों के हक में जल्द ही फैसला करने की नसीहत देते हुए अलग होने का इशारा कर रहे हैं। यहीं पर आजाद उम्मीदवार सोमवीर सांगवान ने चेयरमैन के पद से इस्तीफा देने के पश्चात अब मनोहर लाल खट्टर की सरकार से समर्थन भी वापस ले लिया है। इसके लिए बकायदा सोमवीर सांगवान ने हरियाणा विधानसभा के स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता को पत्र लिखते हुए सूचित भी कर दिया है।

सोमवीर सांगवान द्वारा समर्थन वापिस लेने के फैसले के कुछ देर बाद ही सहयोगी पार्टी जननायक जनता पार्टी ने भी तेवर तीखे कर लिए हैं। जजपा के अध्यक्ष एवं उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के पिता अजय चौटाला ने सरकार को इस मामले में जल्द ही कुछ करने की सलाह दे डाली है। उन्होंने कहा कि किसानों की समस्याएं जल्द ही हल करनी चाहिए। अगर किसान एमएसपी लागू करने के लिए पुख्ता आश्वासन देने की मांग कर रहे हैं तो इस आश्वासन से पीछे नहीं हटना चाहिए, बल्कि लिखित में जल्द ही यह आश्वासन देते हुए किसानों के इस आंदोलन को खत्म करवाना चाहिए। जजपा नेता ने कहा कि सरकारों को बड़ी सोच रखकर किसानों की मांग पूरी करनी चाहिए। उन्होंने उम्मीद जताई कि किसान संगठनों व केन्द्र सरकार के बीच चल रही वार्ता में जल्द ही सकारात्मक परिणाम भी आएंगे।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।