मालगाड़ियों की आवाजाही के लिए सभी रेलवे ट्रैक खाली

0
All railway tracks are empty for movement of goods trains

चंडीगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। पंजाब में किसान यूनियनों के सभी रेलवे लाइनों को खाली कर देने के बाद अब मालगाड़ियों की आवाजाही निर्विघ्र के लिए ट्रैक पूरी तरह तैयार हैं। प्रदेश में पिछले एक अक्तूबर से किसान आंदोलन के चलते ट्रैक पर धरना दिए थे जिसके कारण यात्री ट्रेनें तथा मालगाड़ियां नहीं चलने से कोयले तथा आवश्यक वस्तुओं की कमी हो गयी और कोयले का भंडार खत्म होने से बिजली संकट पैदा हो गया और सभी बिजली संयंत्र बंद हो गए।  सबसे अधिक यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और उद्योगों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। किसानों ने 21 ट्रैकों को खाली कर दिया गया है ताकि मालगाड़ियां सुचारू रूप से चल सकें।

गृह विभाग के प्रवक्ता ने शनिवार को बताया कि रेलवे मंत्री को आश्वासन देने के बाद प्रदेश सरकार ने किसानों को समझा बुझाकर ट्रैक खाली करा लिए। अब पंजाब में सभी रेलवे ट्रैक इस समय पूरी तरह खाली कर दिए गए हैं। अमृतसर जिले में जंडियाला में एक रेलवे प्लेटफार्म पर किसान यूनियन के कार्यकर्ता मौजूद हैं जिसके लिए आईजी बॉर्डर रेंज और एसएसपी अमृतसर इस समय किसान संघर्ष समिति के अधिकारियों के साथ रेलवे प्लेटफॉर्म खाली करवाने के लिए कोशिश कर रहे हैं।

उन्होंने बताया कि प्रदेश भर में मालगाड़ियों के यातायात शुरू होने के कुछ दिन बाद यात्री रेल गाड़ीयों का यातायात भी संभव हो सकेगा, क्योंकि मंत्रियों की समिति विभिन्न किसान यूनियनों के साथ बातचीत करके बड़े लोक हित के लिए यात्री रेल गाड़ियों का यातायात चालू करवाने में जुटी हुई है। इससे पहले रेलवे बोर्ड ने कहा था कि अलग-अलग किसान यूनियनों के सदस्य 21 स्थानों पर मौजूद थे लेकिन अब उन स्थानों को मालगाड़ियों की आवाजाही के लिए खाली कर दिया गया है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।