अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला: न्यायालय ने आरोप पत्र पर लिया संज्ञान

0
Agusta Westland scam Court takes cognizance of the charge sheet
नई दिल्ली। दिल्ली की एक अदालत ने शुक्रवार को अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकाप्टर घोटाल के मामले में कथित बिचौलिए ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन मिशेल, व्यवसायी राजीव सक्सेना और अन्य के खिलाफ केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के पूरक आरोप पत्र पर संज्ञान लिया। अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदे को संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन के शासनकाल में अंतिम रूप दिया गया था। इस दौरान मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री थे। पूर्व भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के प्रमुख एसपी त्यागी के रिश्तेदार संदीप त्यागी और अगस्ता वेस्टलैंड के अंतरराष्ट्रीय मामलों के निदेशक जी सपोनारो को भी जांच एजेंसी ने आरोप पत्र में आरोपी बनाया है। अगर जांच एजेंसी को अदालत से मंजूरी मिलती है तो अन्य आरोपी के खिलाफ मामले में एक नया आरोपपत्र दायर किया जा सकता है। दुबई स्थित व्यवसायी राजीव सक्सेना को भी पिछले वर्ष जनवरी में संयुक्त अरब अमीरात से प्रत्यर्पित किया गया था। अभियोजन पक्ष ने अदालत को बताया कि मामले में आरोपियों के खिलाफ काईवाई के लिए पर्याप्त सामग्री है। विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार ने आज अगस्ता वेस्टलैंड इंटरनेशनल के तत्कालीन निदेशक जी सपोनारो, संदीप त्यागी, राजीव सक्सेना और अन्य आरोपी व्यक्तियों के पूरक आरोप पत्र पर संज्ञान लिया। मामले की अगली सुनवाई 23 अक्टूबर को होगी।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।