Breaking News

बेकाबू ट्रक ने मातम में बदली शादी की खुशियां

Accident,, Five, Deaths

पांच की दर्दनाक मौत, मृतकों में 4 एक ही परिवार के

  • मातम के चित्कार से कांप उठा जर्रा-जर्रा

सच कहूँ/संजय भाटिया
झज्जर। अभी तो शादी की शहनाइयां पूरी तरह से बंद भी नहीं हुई थी कि ऐसी मनहूस खबर आ गई कि पूरा परिवार व रिश्तेदार करूण कु्रंदन से दहल उठे। दरअसल सेंट्रो कार द्वाराशादी समारोह से लौट रहे एक परिवार को बेकाबू ट्रक ने ऐसा जख्म दिया कि जिसे ताउम्र भुलना नामुंकिन है। बुधवार सुबह करीब सात बजे गांव रईया के पास एक ट्रक व कार के बीच हुई भीषण दुर्घटना में बताए जा रहे हैं। मिली जानकारी के अनुसार गांव कासनी निवासी विरेन्द्र पुत्र रामफल बीती रात दिल्ली में किसी शादी समारोह में गए थे।

बुधवार सुबह जब विरेन्द्र अपनी पत्नी सुशीला, पुत्र प्रियांशु, पुत्री रिंकू के अलावा गांव के ही सुनील के साथ कार द्वारा गांव रईया के पास पहुंचे तो सामने से आ रहे एक ट्रक के साथ कार की सीधी भिडंत हो गई। दुर्घटना इतनी जबरदस्त थी कि कार में सवार पांचों लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। दुर्घटना की सूचना मिलते ही पुलिस घटना स्थल पर पहुंची और बड़ी मशक्कत के साथ कार में फंसे शवों को बाहर निकाला। कार में सवार लोगों को नागरिक अस्पताल लाया गया।

जहां उनका पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों के हवाले कर दिए गए। बुधवार शाम ही पांचों मृतकों का अंतिम संस्कार गमगीन माहौल में किया गया। बताया जाता है कि विरेन्द्र गांव में ही परचून की दुकान चलाता है। मंगलवार रात विरेन्द्र अपनी पत्नी, बच्चों के साथ दिल्ली में किसी शादी समारोह में गया था। आज सुबह घर लौटते समय पूरे परिवार की दर्दनाक हादसे में मौत हो गई। एक साथ पांच चिताओं के जलने पर पूरे गांव में दु:ख का माहौल साफ नजर आया।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019