उत्सव से माहौल के बीच लगा खुशियों का टीका

0
95
vaccinated

 सीएमएचओ-पीएमओ बने पहले लाभार्थी

  •  जिले में करीब 500 स्वास्थ्य कर्मियों को लगा टीका

हनुमानगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। करीब एक साल से कोरोना महामारी से जूझ रहे देशवासियों के लिए आखिरकार शनिवार को वह घड़ी आ गई जिसका सभी को बेसब्री से इन्तजार था। आखिरकार जिले सहित देश भर में शनिवार से दुनिया का सबसे बड़ा कोरोना वायरस टीकाकरण कार्यक्रम शुरू हो गया। हनुमानगढ़ जिले में भी पांच सेंटरों पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सम्बोधन के बाद दोपहर करीब 12.15 बजे कोरोना का टीका लगाने का कार्य शुरू हो गया। जिले के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के मुखिया मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. नवनीत शर्मा व राजकीय जिला अस्पताल के प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ. एमपी शर्मा ने जिले में सबसे पहले कोरोना वैक्सीन लगवाने वाले लाभार्थी बनने का गौरव हासिल किया।

सीएमएचओ व पीएमओ ने टाउन स्थित महात्मा गांधी स्मृति राजकीय जिला चिकित्सालय में कोरोना का टीका लगवाया। टीका लगवाने पहुंचने पर सीएमएचओ व पीएमओ का मेडिकल ज्यूरिस्ट डॉ. शंकर सोनी ने माला पहनाकर स्वागत किया। इसके बाद अन्य स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया गया। जिले में जिला अस्पताल के अलावा जंक्शन के गांव धोलीपाल की सीएचसी, पीलीबंगा तहसील की गोलूवाला सीएचसी तथा डबलीराठान सीएचसी एवं रावतसर सीएचसी में स्वास्थ्य कर्मियों को यह वैक्सीन लगाई गई।

पहले दिन कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य सफलतापूर्वक सम्पन्न होने पर सभी ने राहत की सांस ली। सभी पांचों सेंटरों पर शाम 5 बजे तक वैक्सीन लगाई गई। जिला अस्पताल में सीएमएचओ व पीएमओ के बाद इंडियन मेडिकल एसोसिएशन अध्यक्ष डॉ. निशांत बतरा, वरिष्ठ डॉक्टर पारस जैन, डॉ. ओपी बेनीवाल, डॉ. ज्ञानसिंह शेखावत ने टीका लगवाया। टीकाकरण कार्यक्रम के शुभारंभ मौके पर जिला अस्पताल सहित पांचों सेंटरों पर उत्सव सा माहौल रहा। बकायदा चिकित्सा केन्द्रों की गुब्बारों से सजावट की गई। वैक्सीनेशन को लेकर जिला अस्पताल में महिला नर्सिंग स्टाफ ने भी उत्साह दिखाया। इस कार्य से जुड़ा हर कोई अपनी ड्यूटी को लेकर पूरा मुस्तैद नजर आया।

पांचों सेंटरों पर कहीं कोई ऐसा मामला सामने नहीं आया जहां वैक्सीन लगाने के बाद किसी स्वास्थ्य कर्मी को घबराहट महसूस हुई हो। प्रत्येक सेंटर पर करीब 100-100 लाभार्थी स्वास्थ्य कर्मियों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई। पहले दिन करीब 500 स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीनेट किया गया। अभियान के तहत 18 साल से कम उम्र के बच्चों, गर्भवती महिलाओं को यह टीका नहीं लगाया जाएगा। इसके अलावा कोरोना के लक्षण वाले लोगों को 14 दिन तक वैक्सीनेट नहीं किया जाएगा।

10820 व्यक्तियों का होगा टीकाकरण

राज्यस्तर से जिले को 1082 वैक्सीन वॉयल प्राप्त हुई हैं। प्रत्येक वॉयल में 10 डोज हैं। ये वैक्सीन पहले चरण के लिए स्वास्थ्यकर्मियों को लगाई जाएंगी। प्रथम चरण में 10820 व्यक्तियों का टीकाकरण होगा और उनको दूसरी डोज 28 दिन बाद दी जाएगी। इसमें सरकारी और प्राइवेट हेल्थ वर्कर में मेडिकल, पैरामेडिकल और महिला एवं बाल विकास से जुड़े कर्मी शामिल हैं।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।