Breaking News

अभिनंदन के ‘महा अभिनंदन’ के लिये समूचा हिंदुस्तान उमड़ा वाघा सीमा पर

Abhinandan to the 'great congratulations' on the whole of India on the Wagah border

पाकिस्तान ने अभिनंदन की बिना शर्त रिहाई की घोषणा की थी

वाघा (एजेंसी)। विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान पाकिस्तान की हिरासत से रिहा होकर भारत-पाकिस्तान की यहां संयुक्त (Abhinandan to the ‘great congratulations’ on the whole of India on the Wagah border) सीमा से आज स्वदेश पहुंचेंगे तथा पाकिस्तान स्थित भारतीय उच्चायोग में तैनात ग्रुप कैप्टन जे.डी. कूरियन अभिनंदन को लेकर यहां आएंगे। इस बीच सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान सरकार ने अभिनंदन को सायं चार बजे भारतीय उच्चायोग अधिकारियों को सौंपने का ऐलान किया है। इसके बाद ही उनके यहां वाघा सीमा पर पहुंचने की सम्भावना है।

इस बीच रियल टाईम ह्यहीरोह्य अभिनंदन के स्वागत के लिये पंजाब समेत देश के विभिन्न हिस्सों से बड़ी संख्या में लोगों का यहां (Abhinandan to the ‘great congratulations’ on the whole of India on the Wagah border) पहुंचना शुरू हो गया है। वाघा सीमा पर सुबह चार बजे से ही देश के दूर दराज से हिस्से से लोग यहां पहुंच रहे हैं। इनमें ज्यादातर अमृतसर और पंजाब के विभिन्न जिलों से हैं। अभिनंदन के भारतीय क्षेत्र में प्रवेश करने पर ढोल नगाड़ों और फूल मालाओं के साथ उनका भव्य स्वागत होगा। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भी इस मौके पर यहां पहुंच सकते हैं।

भारतीय वायु सेना ने भी विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की रिहाई की घोषणा का स्वागत करते शुक्रवार को कहा कि वह पायलट की वतन वापसी देखना चाहता है। वायु सेना के सूत्रों के अनुसार विंग कमांडर अभिनंदन के स्वागत के लिए उसकी एक टीम वाघा सीमा पर पहुंचेगी। उल्लेखनीय है कि भारत के किसी भी शर्त को न मानने तथा उसके और अंतरराष्ट्रीय समुदाय के बढ़ रहे दबाव के आगे झुकते हुये पाकिस्तान ने अभिनंदन को वापिस भेजने का वीरवार को ऐलान किया था।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद का आपात सत्र बुला कर उसमें ह्यशांति की खातिरह्य तथा दोनों देशों के बीच तनाव घटाने के लिये अभिनंदन को बिनाशर्त वापिस भारत भेजने की घोषणा की थी। हालांकि इससे पहले पाकिस्तान ने बातचीत की टेबल पर आने की शर्त के साथ अभिनंदन को भारत को सौंपने की जिद्द की थी। भारत की ओर से इस पेशकश पर कोई प्रतिक्रिया नहीं होने, नई दिल्ली में बढ़ती हलचल, भारत की ओर से अभिनंदन को छुड़ाने के लिये किसी बड़ी कार्रवाई की आशंका तथा अंतरराष्ट्रीय समुदाय में अलग-थलग पड़ जाने पर पाकिस्तान ने बातचीत करने की रट छोड़ दी और अभिनंदन की बिना शर्त रिहाई की घोषणा की थी।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019