राजस्थान में अब खेत से खरीदी फसल तो दर्ज होगा मुकदमा

0
lawsuit , Crop, Purchased, Farm

समिति ने  मोबाइल टीम का गठन किया | Crop purchased

राजस्थान (एजेंसी)। हाड़तोड़ मेहनत से तैयार किसान की उपज को लेकर मनमर्जी के भाव देने वाले व्यापारियों पर मंडी समिति की ओर से कार्रवाई की जाएगी । कार्रवाई के तहत आपराधिक मुकदमा दर्ज कराने व जुर्माना लगाया जाएगा। इसके लिए मंडी समिति ने मोबाइल टीम का गठन कर दिया है। ये टीम खेतों से अनाज की सीधी खरीद करने वालों पर कार्रवाई करेगी। सीधी खरीद से हो रहे राजस्व घाटे को देखते हुए समिति ने एक मोबाइल टीम का गठन किया है। यह टीम ऑफिस कार्य के साथ ही रोटेशन से क्षेत्रवार गश्त करेगी। गश्त के दौरान अनाज से भरे वाहन पर कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए मंडी सचिव ने टीम बना ली है।

यह आती है परेशानी |Crop purchased

गांवों में खुली अघोषित अनाज मंडियों के संचालक वाहन चलाने, उपज तौलने के लिए किसान को नौकरी पर रखते हैं। यही नहीं माल परिवहन के दौरान बिल्टी भी परेशानी की होती है। मंडी समिति की टीम जांच करती है तो वाहन में भरे माल को किसान का साबित करने के लिए जमाबंदी मांगी जाती है। काफी देर तक जमाबंदी नहीं पहुंचती है। वाहन को जब्त करने का अधिकार नहीं होने के कारण मंडी की टीम खाली हाथ लौटना पड़ता है।

सरकारी रियायत से पनपे बिचौलिए

सरकार ने किसान की उपज को कहीं भी बेचने की स्वतंत्रता दी है। इसी स्वतंत्रता का फायदा उठाकर बिचौलिए पनप गए। हाल यह है कि अब इन बिचौलियों की जड़ें इतनी गहरी हो चुकी है कि इन्हें हटा पाना मुश्किल है।

दर्ज होगा मुकदमा

  • सीधे फसल खरीदने वाले व्यापारियों पर कार्रवाई के लिए टीम का गठन किया है।
  • ये टीम खेतों से सीधे अनाज खरीदने वाले व्यापारी व कार्मिक पर आपराधिक मुकदमा दर्ज करवाएगी।
  • जिले में ऐसे अवैध कारोबार करने वालों को चिन्हित किया जा रहा है।
  • अनाज की बोरियों से भरे वाहन व कांटे बाट लेकर गांवों में घूमने वाले वाहनों पर कार्रवाई की जाएगी

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।