फटाफट न्यूज़
   बड़ी बहन के साथ बीजेपी में शामिल हुईं साइना नेहवाल l   शेयर बाजार की बढ़त के साथ शुरुआत, सेंसेक्‍स 41,100 अंक के पार l   चीन में कोरोना वायरस से अब तक 132 लोगों की मौत, सामने आए 25 और नए केस l   आर्थिक सुस्ती पर राहुल गांधी ने साधा मोदी सरकार पर निशाना l   केरल: CAA के खिलाफ राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने पढ़ा सरकार का विचार, जताई असहमति l
देश

धनाना (भिवानी) की पहली शरीरदानी बनी 92 वर्षीय ‘सोना देवी इन्सां’

Body donation

जहां हरियाणा 45 मैम्बर दलबीर इन्सां की 92 वर्षीय माता एवं सिरसा जिला के कल्याण नगर ब्लॉक के 15 मैम्बर प्रवीन इन्सां की दादी सोना देवी की पार्थिव देह मेडिकल शोध कार्यों के लिए दान कर दी गई। माता सोनी देवी इन्सां को धनाना गांव में पहला शरीरदानी बनने का भी सौभाग्य प्राप्त हुआ है।

ग्रामीणों, साध-संगत और विभिन्न प्रदेशों के मैंबरों ने अर्पित की श्रद्धांजलि

  •  नेशनल यूनिवर्सिटी ग्रेटर नोएडा, यमुना एक्सप्रेस-वे के विद्यार्थी करेंगे पार्थिव देह पर शोध

भिवानी (सच कहूँ न्यूज)। डेरा सच्चा सौदा के अनुयायी जीते-जी तो इन्सानियत की सेवा में अपना योगदान देते ही हैं, बल्कि मरणोपरांत भी समाज के लिए प्रेरणा बन रहे हैं। (Body donation) इसका एक उदाहरण सोमवार को भिवानी जिला के गांव धनाना में देखने को मिला। जहां हरियाणा 45 मैम्बर दलबीर इन्सां की 92 वर्षीय माता एवं सिरसा जिला के कल्याण नगर ब्लॉक के 15 मैम्बर प्रवीन इन्सां की दादी सोना देवी की पार्थिव देह मेडिकल शोध कार्यों के लिए दान कर दी गई। माता सोनी देवी इन्सां को धनाना गांव में पहला शरीरदानी बनने का भी सौभाग्य प्राप्त हुआ है। इस दौरान उनके पारिवारिक सदस्यों के अलावा हरियाणा 45 मैम्बर कमेटी के सदस्यों के अलावा ब्लॉक कल्याण नगर, भिवानी, हांसी, गढ़ी से काफी संख्या में शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैल्फेयर फोर्स विंग के सेवादार भाई बहन व गांव के प्रबुद्धजनों ने उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए।

पुत्रवधुओं तथा पोत्रियों ने अर्थी को कांधा देने की रस्म निभाकर समाज में बेटा-बेटी एक सम्मान का संदेश दिया (Body donation)

दरअसल 92 वर्षीय सोना देवी इन्सां रविवार को अपनी सांसारिक यात्रा पूरी करके कुल मालिक के चरणों में सचखंड जा विराजी। उनका पूरा परिवार डेरा सच्चा सौदा से जुड़ा है और उनके परिजनों ने उनकी अंतिम इच्छा को पूरा करते हुए पार्थिव देह को मेडिकल शोध कार्यों के लिए उनके पैतृक गाँव धनाना जिला भिवानी से उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा स्थित नेशनल यूनिवर्सिटी ग्रेटर नोएडा, यमुना एक्सप्रेस वे में दान किया गया। इससे पूर्व अंतिम विदाई के समय उनकी बेटी दर्शना रानी इन्सां, होशियारी इन्सां व पुत्रवधुओं तथा पोत्रियों ने अर्थी को कांधा देने की रस्म निभाकर समाज में बेटा-बेटी एक सम्मान का संदेश दिया। इसके पश्चात उपस्थित साध-संगत व पारिवारिक सदस्यों ने इलाही नारा धन-धन सतगुरु तेरा ही आसरा व अरदास का शब्द बोलकर पार्थिव देह को फूलों से सजी गाड़ी में पूरे गांव में शव यात्रा निकाली गई।

सोना देवी अमर रहे, अमर रहे, शरीरदान महदान के नारे लगाते उन्हें भावभीनी दी विदाई

गांव धनाना की 3 पंचायत लगती है और जहां-जहां से शव यात्रा गुजरी, वहां ग्रामीणों ने सोना देवी अमर रहे, अमर रहे, शरीरदान महादान के नारे लगाते उन्हें भावभीनी विदाई दी। माता सोना देवी इन्सां की अंतिम विदाई के समय उनके पुत्र पतराम इन्सां, धर्मबीर इन्सां, सत्यवान इन्सां, दलबीर इन्सां, बेटी दर्शना रानी इन्सां, होशियारी इन्सां, सरसा से वार्ड नम्बर 11 के पार्षद जश्न इन्सां, 45 मैम्बर सुरेश टोहाना, तरसेम टोहाना, कृष्ण उकलाना, हरिकेश, जसवंत, ओमप्रकाश, सुखवीर, भुवनेश, सुभाष, उमेद इन्सां, 45 मैम्बर बहन बिमला इन्सां, 15 मैम्बर भिवानी राजू, भृमदत तोशाम, राजकुमार हांसी, विनोद बवानी खेड़ा, गढ़ी से तारा चन्द, मोहनलाल, कल्याण नगर से 15 मैम्बर जसमेर इन्सां, बनारसी दास, बलबीर इन्सां, संदीप इन्सां, नीरज इन्सां, जिम्मेवार बहन मंजीत इन्सां, मिठू इन्सां, कोशल इन्सां, गांव धनाना के भंगीदास श्याम लाल इन्सां, जय सिंह इन्सां सहित भारी संख्या में साध-संगत उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंची।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

 

लोकप्रिय न्यूज़

To Top