Breaking News

6 लाख विद्यार्थी लेंगे पर्यावरण बचाने की शपथ

Environment

अभियान में प्रदेश के सरकारी व प्राईवेट स्कूलों के विद्यार्थियों को
पराली न जलाने व न जलाने देने की शपथ दिलवाई जाएगी

जागरूकता। पर्यावरण बचाने को लेकर राह ग्रुप फाउंडेशन की अनूठी पहल

  •  प्रदेश व्यापी जागरुकता अभियान के तहत 12 नवम्बर को आयोजित होगा कार्यक्र म
  •  ड्राईग कॉम्पिटिशन, रैली, भाषण प्रतियोगिताओं व नुक्कट नाटकों से बताएंगे पराली जलाने के दुष्प्रभाव

सच कहूँ/संदीप सिंहमार  हिसार। 1166 स्कूल, छह लाख विद्यार्थी और प्रदेश को (Environment) पराली के प्रदूषण से बनाने का संकल्प। जी हां यहां बात हो रही है, 12 नंवम्बर को प्रदेश भर के स्कूलों में आयोजित होने वाले राह ग्रुप फाउंडेशन के प्रदेश व्यापी जागरुकता अभियान की। जिसमें विद्यार्थियों के माध्यम से प्रदेश के आमजन से लेकर किसानों को पराली जलाने के दुष्प्रभाव के बारे में जागरुक किया जाएगा। यह जानकारी देते हुए राह ग्रुप फाउंडेशन के राष्ट्रीय चेयरमैन नरेश सेलपाड़ व वाईस चेयरमैन रामनिवास वर्मा ने बताया कि इस जागरुकता अभियान में प्रदेश के सरकारी व प्राईवेट स्कूलों के विद्यार्थियों को पराली न जलाने व न जलाने देने की शपथ दिलवाई जाएगी।

आखिर यह है मकसद-

  • इस जागरुकता अभियान का मकसद विद्यार्थियों को पराली जलाने से पैदा हुए प्रदूषण
  • से होने वाले नुकसान के बारे में बताने के साथ-साथ विद्यार्थियों को पराली के बेहत्तर विकल्प व प्रबंधन के प्रति जागरुक किया जाएगा।
  • साथ ही विद्यार्थियों को पराली पं्रबंधन की उन्नत तकनीकों से जुड़ने के लिए प्रेरित किया जाएगा।
  • जिससे कि वो आने वाले दिनों में अपनी खोज व विचारों से समाज को पराली के दुष्प्रभावों से बचा सके।

कहां-कहां से कितने स्कूल-

राह ग्रुप फाउंडेशन के इस जागरुकता अभियान के तहत हिसार जिले के 232, रोहतक के 62, फतेहाबाद के 108, सिरसा के 58, जींद के 78, अम्बाला के 47, महेन्द्रगढ़ जिले के 42, भिवानी के 82, चरखी-दादरी के 22, रेवाड़ी के 28 सोनीपत, गुरुग्राम जिले के 32, मेवात जिले के 33, कैथल जिले के 68, करनाल जिले के 52, सोनीपत जिले के 41, झज्जर जिले के 44, फरीदाबाद जिले के 28, यमुनानगर के 34, पानीपत के 39, कुरुक्षेत्र जिले के 36 स्कूलों के विद्यार्थियों को पराली न जलाने व न जलाने देने की शपथ दिलवाई जाएगी।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top