Breaking News
   सिरसा में प्रशासन के आदेश के बाद पानीपत फ़िल्म का प्रसारण रोका गया |   राजनाथ सिंह बोले- धर्म के आधार पर भेदभाव ना हो, इस बात से सहमत हूं |   त्रिपुराः अगरतला में नागरिकता संशोधन बिल के विरोध में प्रदर्शन जारी |   मुस्लिम देशों में भारतीयों का उत्पीड़न हो रहा है: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह |   करनाल में बच्चों से भरी बस पलटी, 24 सीटर बस में थे 80 बच्चे, ग्रामीणों का आरोप-नशे में था ड्राइवर |   कर्नाटक उपचुनाव: भाजपा ने 15 में से 12 सीटों पर दर्ज की जीत |   नागरिकता बिल: पहली जोर आजमाइश में मोदी सरकार पास, लोकसभा में 293 Vs 82 रहा स्कोर|   फ़िल्म पानीपत पर हो रहे हंगामे पर बोले गृह मंत्री अनिल विज: अगर किसी एतिहासिक विषय पर फ़िल्मकार फ़िल्म बनाता है तो उसे पूरा रिसर्च करना चाहिए।   हरियाणा परिवहन विभाग के बेड़े में शामिल होगी नई बसें, सभी में लगेेंगे सीसीटीवी कैमरे: परिवहन मंत्री मुलचंद शर्मा |    हनीप्रीत इन्सां ने पूज्य गुरु जी से सुनारिया जेल में की मुलाकात |
Breaking News

भिखारी महिला के अकाउंट में मिले 6.37 करोड़ रुपये

beggar woman

लेबनानबैंक से पैसे ट्रांसफर कराने पर खुला मामला

बेरुत (एजेंसी)। लेबनान की एक महिला भिखारी (beggar woman) इन दिनों चर्चा में है। वह अपनी धन-संपत्ति के कारण  इन दिनों सुर्खियों में है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भीख मांग कर अपना जीवन गुजारने वाली महिला के बैंक अकाउंट में 6.37 करोड़ रुपए हैं। सबसे बड़ी बात तो यही है कि भिखारी वाफा मोहम्मद अवद ने यह राशि भीख मांगकर बैंक में जमा की है। यह मामला तब सामने आया जब वाफा मोहम्मद अवद अपनी सेविंग्स को एक बैंक से दूसरे बैंक में ट्रांसफर करने के लिए पहुंची थी। जब उसने पैसे ट्रांसफर के लिए आवेदन दिया तो मौजूदा बैंक के पास नगदी की समस्या पैदा हो गई। अवद के दो चेक सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। इन पर 30 सितंबर, 2019 की तारीख दर्ज है।

सीदोन के हॉस्पिटल के बाहर भीख मांगती है

  • वाफा सीदोन शहर की रहने वाली और वह यहां के एक प्रसिद्ध अस्पताल के सामने दिनभर भीख मांगती है।
  • ज्यादातर वक्त वह अस्पताल के गेट पर भीख मांगते देखी जा सकती है।
  • आसपास के रहने वाले ज्यादातर लोग इसे जानते हैं।
  • वह यहां पिछले 10 साल से भीख मांग रही है।
  • हालांकि रईस भिखारियों के मामले में अपना देश भी कतई पीछे नहीं है।
  • जमीन-जायदाद के मामले में भारतीय भिखारी भी लखपतियों को पीछे छोड़ते हैं।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top