राजस्थान

35 लाख की लूट आरोपित को भिजवाया जेल

Loot Accused, Jail

 फरार तीन आरोपितों की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही पुलिस

हनुमानगढ़ (सच कहूँ न्यूज)।

ईंट भट्ठा व्यापारी से 35 लाख रुपए की लूट के मामले में गिरफ्तार सुनील पुत्र लालचंद नायक निवासी जंडावाली को टाउन पुलिस ने रिमांड अवधि समाप्त होने पर बुधवार को न्यायालय में पेश किया। जहां से आरोपित को न्यायालय के आदेश पर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भिजवा दिया। पुलिस अब तक इस मामले में छह जनों को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेज चुकी है।

आरोपितों की निशानदेही पर लूटी गई 35 लाख की रकम में से अभी तक पुलिस मात्र साढ़े आठ लाख रुपए ही बरामद कर पाई है। इस प्रकरण में तीन जनों की और संलिप्तता सामने आई है। तीनों ही पुलिस पकड़ से दूर हैं।

पुलिस को उम्मीद है कि शेष रकम इन तीनों के पास है। साथ ही वारदात में इस्तेमाल नकली व असली पिस्टल की बरामदगी शेष है। टाउन थाना प्रभारी के रीडर संदीप कूकणा ने बताया कि प्रकरण की मास्टर माइंड सविता उर्फ श्वेता उर्फ तन्नू अरोड़ा पत्नी मुकेश निवासी टिब्बी रोड टाऊन व सुनील के अलावा मानसिंह उर्फ डीसी (26) पुत्र लक्ष्मण सिंह ओड, बबलू (32) पुत्र मुंशीराम ओड, कालू उर्फ बलराम पुत्र हरमेल तीनों निवासी सुरेशिया जंक्शन व रोहिताश पुत्र बुधराम कुम्हार निवासी नाथांवाली थेड़ी को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भिजवाया जा चुका है। फरार तीन लुटेरों को गिरफ्तार करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

गौरतलब है कि ईंट भट्ठा व्यापारी अशोक अरोड़ा से 22 सितम्बर की रात करीब आठ बजे नोरंगदेसर रोही में 35 लाख रुपए लूट लिए गए थे। वारदात उस समय हुई जब अशोक किशनगढ़ से रुपयों की उग्राही कर लौट रहे थे। उनकी कार को ड्राइवर विनोद मेघवाल चला रहा था। मैनावाली व नौरंगदेसर के बीच चालक ने लघुशंका के लिए सड़क किनारे कार को रोका।

इस बीच, पीछे से तीन-चार युवक दूसरी कार में आए। इनमें से एक युवक व्यापारी की कार में सवार हुआ और उसे लेकर भागा। चक हरिपुरा पहुंचने पर लुटेरों ने उनका रुपयों से भरा बैग छीन लिया। जांच के बाद टाउन पुलिस ने 13 अक्टूबर को प्रकरण की साजिशकर्ता सविता सहित पांच जनों को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया।

 

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top