पंजाब

बिजली चोरी के 21 केस पकड़े, 11.50 लाख जुर्माना

Case, Electric, Theft, Fine, Punjab

इंनफोर्समैंट विंग पटियाला द्वारा मूनक क्षेत्र की चैकिंग

मूनक (दुर्गा सिंगला)। निगरान इंजीनियर इंनफोर्समैंट पटियाला के नेतृत्व में इंनफोर्समैंट विंग पटियाला द्वारा मूनक क्षेत्र की चैकिंग की गई। चैकिंग दौरान 21 बिजली चोरी के केस पकड़े गए, जिन्हें 11.50 लाख से अधिक जुर्माना किया गया। चोरी करते पकड़े गए इन लोगों के खिलाफ पुलिस थाना एन्टी पॉवर थैफट को एफआईआर दर्ज करने के लिए भी लिखा गया है।

इस मौके जानकारी देते हुए इन्फोर्समैंट के अतिरिक्त निगरान इंजीनियर बसंत जिंदल ने बताया कि मूनक क्षेत्र में बिजली के मीटर घरों से बाहर निकालने का विरोध किया गया था। लोगों के प्रदर्शन व सियासी कारणों की वजह से मीटर घरों से बाहर नहीं निकाले जा सके थे, जिस कारण मूनक में बिजली चोरी काफी अधिक हो रही है और बिजली विभाग को काफी वित्तीय नुक्सान झेलना पड़ रहा है।

अधिकारी मूनक के खिलाफ केस दर्ज

मद्देनजर आज इन्फोर्समैंट विंग पटियाला की पांच टीमों ने मूनक क्षेत्र के उन घरों में स्पैशल चैकिंग की, जिनके मीटर बाहर नहीं निकाले गए हैं। चैकिंग दौरान 21 बिजली चोरी के केस पकड़े गए, जिसके लिए 11 लाख 50 हजार रुपये जुर्माना किया गया है।

इंजीनियर जिंदल ने बताया कि इस चैकिंग दौरान स्थानीय शहीद ऊधम सिंह स्टेडियम में भी बिजली चोरी पकड़ी गई है। स्टेडियम में दिन के समय भी लाईटें चलती पाई गई। स्टेडियम में बिजली चोरी का केस नगर पंचायत के कार्यकारी अधिकारी मूनक के खिलाफ दर्ज किया गया है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019