रिलायंस के राइट्स इश्यू को 159 प्रतिशत अभिदान

0
Debt Free Reliance

नयी दिल्ली। धनकुबेर मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज के राइट्स इश्यू को लाकडाउन के कारण तरलता की तंगी और शेयर बाजारों की उठापटक के बावजूद निवेशकों का चौतरफा जोरदार समर्थन मिला और आकार से डेढ़ गुना से अधिक अभिदान की बोलियां प्राप्त हुई हैं। बीस मई को खुला इश्यू बुधवार को बंद हुआ और इसे 159 प्रतिशत अभिदान मिला। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने राइट्स इश्यू से 53,124 करोड़ रुपये जुटाने की योजना बनाई है जबकि उसे 84 हजार करोड़ रुपए से अधिक की बोलियां मिली हैं। राइट्स इश्यू को सार्वजनिक हिस्से वाले वर्ग से निवेशकों का 1.22 गुना अभिदान मिला।
कंपनी पिछले तीन दशक में यह पहला राइ्टस इश्यू लाई जो देश का अब तक का सबसे बड़ी राशि का राइट इश्यू है।

Reliance Industries Limited

यही नहीं यह किसी गैर-वित्तीय कंपनी का पिछले एक दशक में लाया गया विश्व का सबसे बड़ा राइट्स इश्यू है। कंपनी ने राइट इश्यू के तहत 42.26 करोड़ शेयर ऑफर किए थे जबकि जो बोलियां आईं हैं उनका अनुमानित मूल्य करीब 84 हजार करोड़ रुपये है। राइट्स इश्यू के ओवरसब्सक्राइब होने का तात्पर्य है कि शेयरधारकों ने अपने एंटाइटेलमेंट से अधिक शेयरों के लिए आवेदन किया है। राइट्स इश्यू समिति की इक्विटी शेयरों के आवंटन को मंजूरी देने के लिए कंपनी निदेशक मंडल की बैठक 10 जून को होगी। राइट्स इश्यू शेयर की बीएसई और एनएसई पर अलग-अलग अंतरराष्ट्रीय प्रतिभूति पहचान नंबर (आईएसआईएन) के तहत 12 जून को सूचीबद्ध होने की उम्मीद है।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।