Breaking News

भोपाल में गणपति विसर्जन के दौरान नाव पलटी, 11 की मौत

चार-चार लाख रुपये मुआवजे का एलान

भोपाल (एजेंसी)। भोपाल के खटलापुरा घाट पर शुक्रवार को तड़के गणपति विसर्जन के दौरान नाव पलटने से कई लोग डूब गए। अभी तक 11 शव बरामद किए जा चुके हैं। नौ लोगों को बचा लिया गया है। पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। तीन लोग अभी भी लापता बताए जाते हैं। लापता लोगों की तलाश के लिए नदी में गोताखोरों की टीम उतारी गई है। बताया जाता है कि खटलापुरा में यह हादसा नाव पर अधिक लोगों के सवार होने के कारण हुआ। अधिक जानकारी की प्रतिक्षा है।

बताया जाता है कि पिपलानी इलाके में चल रहे समारोह के बाद लोग गणेश प्रतिमा का विसर्जन करने के लिए घटनास्‍थल पर पहुंचे थे। मूर्ति बड़ी होने की वजह से नाव का बैलेंस बिगड़ गया जिससे वह डूब गई। घटना की जानकारी मिलने के बाद एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंच गई है। मध्‍य प्रदेश के मंत्री पीसी शर्मा ने इस हादसे पर दुख जाहिर करते हुए कहा कि यह काफी दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। राज्‍य सरकार ने मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है।

हादसे को लेकर गंभीर लापरवाही की बात सामने आ रही है। पहले भी यहां लोगों के डूबने की घटनाएं हो चुकी है। गणेश विसर्जन के दौरान यहां पुलिस की ओर से भी सुरक्षा का कोई इंतजाम नहीं था। इस बीच मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री कमलनाथ ने इस घटना की मजिस्‍ट्रेटी जांच के निर्देश दिए हैं। जारी बयान में कहा गया है कि इस हादसे में जिसकी भी लापरवाही सामने आएगी उसके खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी।

2 नाव आपस में जुड़ी थीं, इन पर 22-23 लोग सवार थे।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, दो नावें आपस में जुड़ी थीं, इन पर 22-23 लोग सवार थे। सभी लोग 27-28 साल उम्र के थे। कोई भी लाइफ जैकेट नहीं पहने था। सबसे पहले एक नाव पलटी तो इस पर सवार लोग दूसरी पर कूद गए। इसके बाद दूसरी नाव का संतुलन भी बिगड़ गया और दोनों नावें डूब गईं। यह घटना जिस जगह पर हुई वहां मध्य प्रदेश होमगार्ड और राज्य आपदा बचाव दल (एसडीआरएफ) का मुख्यालय भी बताया जाता है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे

लोकप्रिय न्यूज़

To Top