बांस, शहद और खादी के देश में बनेंगे 100 कलस्टर

0
100 clusters in the country of bamboo, honey and khadi
  • 50 हजार शिल्पकार अर्थिक रुप से सशक्त होंगे

नई दिल्ली (एजेंसी)। सरकार ने देश में किसानों की आय में वृद्धि और उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने के लिए बांस, शहद और खादी से संबंधित एक सौ नये कलस्टर बनाने की घोषणा की है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में कहा कि इस वित्तीय वर्ष के दौरान बांस, शहद और खादी के एक सौ नये कलस्टर बनाये जायेंगे, जिससे 50 हजार शिल्पकार अर्थिक रुप से सशक्त हो सकेंगे। उन्होंने कहा कि कृषि आधारभूत सुविधाओं के विकास पर बड़े पैमाने पर निवेश किया जायेगा तथा सहकारिता के माध्यम से डेयरी क्षेत्र का विकास किया जायेगा। उन्होंने दलहन की पैदावार में आत्मनिर्भरता के लिए किसानों की सराहना करते हुए कहा कि उन्हें विश्वास है कि तिलहनों की पैदावार में भी ऐसी सफलता मिलेगी। किसानों की मेहनत से देश का आयात खर्च कम होगा।

  • दस हजार नए किसान उत्पादक संगठन बनाएंगे

वित्त मंत्री ने कहा कि अगले पांच साल में दस हजार नये किसान उत्पादक संगठन बनाये जाएंगे। ई-नाम योजना से किसानों को लाभान्वित करने के लिए केन्द्र राज्यों के साथ मिलकर काम करेगा। कृषि उत्पाद विपणन समिति अधिनियम (एपीएमसी) से किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए।
उन्होंने कहा कि व्यवसाय करना और जीवन आसान बनाना किसानों पर भी लागू होना चाहिए। इससे हम उस स्थिति में वापस आ जायेंगे जिससे किसानों के लिए बजट आवंटित करने (जीरो बजट फार्मिंग) की जरुरत नहीं होगी। इस नवाचार माडल को दोहराने की जरुरत है कुछ राज्यों में इसके लिए पहले से ही किसानों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। ऐसे कदमों से आजादी के 75वें वर्ष तक किसानों की आय दोगुनी हो सकती है ।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।