दिल्ली निजामुद्दीन में मरकज से भागे 10 संदिग्ध गुरुग्राम में पकड़े

0
Nizamuddin Markaz

सभी को जांच के बाद अस्पताल में किया क्वारंटाइन

गुरुग्राम(संजय मेहरा/सच कहूँ)। दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में बनी मकरज इमारत में तब्लीगी जमात में शामिल होने के बाद वहां से फरार हुए 10 संदिग्ध लोग गुरुग्राम में पकड़े गए हैं। उन्हें यहां नागरिक अस्पताल में जांच के बाद क्वारंटाइन में रखा गया है, ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर ऐहतियात बरतते हुए उसके फैलने का अंदेशा कम हो सके। गुरुग्राम के पुलिस कमिश्नर ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि थाना स्तर पर टीमें बनाकर और भी संदिग्धों की पहचान की जा रही है।

इस मकरज इमारत में से करीब ढाई हजार लोगों के कोरोना संक्रमण के दौर में इकट्ठा होने की घटना ने देश को हिलाकर रख दिया है। इनमें से पकड़े गए 180 लोगों की जांच में कोरोना संक्रमण पॉजिटिव आया है। इसके बाद से तो तमाम सुरक्षा एजेंसियां, स्वास्थ्य विभाग अलर्ट पर है और देशवासी गुस्से में हैं। वहां से निकलकर हरियाणा में भी काफी लोग प्रवेश कर गए हैं। सरकार ने भी अपने सूचना तंत्र की रिपोर्ट के आधार पर कहा है कि इन्होंने यहां फर्जी पते पर अपने पहचान पत्र बनाकर रह रहे हैं। सतर्कता बरतते हुए गुरुग्राम पुलिस पूरे जिले में जांच कर रही है।

पुलिस टीमों ने अलग-अलग क्षेत्रों से छापेमारी करके 10 संदिग्ध को पकड़ा

बुधवार रात को पुलिस टीमों ने अलग-अलग क्षेत्रों से छापेमारी करके 10 संदिग्ध लोगों को पकड़ा। ये सभी दिल्ली की उस जमात में शामिल होकर आए थे। कई लोग इन लोगों के संपर्क में भी ये आ चुके हैं। पुलिस ने सभी लोगों से प्राथमिक पूछताछ के बाद जिला के स्वास्थ्य विभाग को सूचित कर दिया। सूचना के बाद पहुंची मेडिकल टीम ने सभी लोगों को लिया और सेक्टर-10ए स्थित नागरिक अस्पताल पहुंची। जहां सभी के कोरोना टेस्ट के लिए सेम्पल लेकर उन्हें क्वारंटाइन किया गया। इस बारे में पुलिस कमिश्नर मोहम्मद अकील का कहना है कि थाना स्तर पर टीमें गठित की गई हैं। असिस्टेंट पुलिस कमिश्नर को इसकी जिम्मेदारी दी गई है।

और भी ऐसे संदिग्धों की पहचान की कोशिश की जा रही है। लोगों से भी ऐसे किसी भी संदिग्ध की सूचना देने की अपील की है। पुलिस अधिकारियों ने मौलानाओं और मुस्लिम नेताओं से भी बैठक करते हुए जमात में शामिल हुए लोगों का कोरोना संक्रमण जांच कराने की बात कही। मस्जिदों, मुस्लिम क्षेत्रों में की गई पूछताछ पुलिस की ओर से किसी भी तरह का रिस्क ना लेते हुए वीरवार को गुरुग्राम की सभी मस्जिदों में पूछताछ की गई कि दिल्ली से कोई व्यक्ति आकर यहां तो नहीं ठहरा है। मस्जिदों के अलावा मुस्लिम बाहुल इलाकों पालम विहार, धर्म कालोनी, सराय अलावर्दी समेत कई क्षेत्रों में जाकर पूछताछ की गई।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।