Breaking News

हरियाणा में नए सियासी समीकरण की अटकलें तेज

Speculation of new political equation intensifies in Haryana

हुड्डा ने मायावती से की मुलाकात, हो सकता है गठबंधन, आधे घंटे चली बैठक

चंडीगढ़ (अनिल कक्कड़)।

हरियाणा में विधानसभा चुनाव से पहले सियासी सरगर्मी तेज है। जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) से गठबंधन तोड़ने के बाद बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की अध्यक्ष मायावती ने अकेले सभी 90 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया था। लेकिन राज्य के दिग्गज कांग्रेस नेता और दो बार सीएम रहे भूपेंद्र सिंह हुड्डा और मायावती की मुलाकात के बाद नई सियासी सुगबुगाहट दिख रही है।

कयास लगाए जा रहे हैं कि विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और बीएसपी के बीच गठबंधन हो सकता है। भूपेंद्र सिंह हुड्डा और बीएसपी सुप्रीमो मायावती के बीच नई दिल्ली में बंद कमरे में बैठक होने के बाद प्रदेश में कांग्रेस और बीएसपी के बीच चुनाव पूर्व गठबंधन के अनुमान लगाए जा रहे हैं। पार्टी के अंदरूनी सूत्रों ने सोमवार को यह जानकारी दी। रविवार रात लगभग आधे घंटे चली बैठक में कांग्रेस की नई प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा भी मौजूद रहीं। हालांकि बसपा और कांग्रेस दोनों ओर इस मुलाकात का खंडन किया गया है।

  • अकेले लड़ने पर बीएसपी ने नहीं खोले पत्ते

इस बीच हरियाणा बीएसपी के प्रदेश अध्यक्ष प्रकाश भारती ने भी संकेत दिए हैं कि बीएसपी राज्य में किसी अन्य दल से गठबंधन कर सकती है। उनसे सवाल पूछा गया था कि क्या पार्टी सभी सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है, तो इस पर भारती ने कहा कि फिलहाल उन्हें ऐसी कोई जानकारी नहीं है। उन्हें भी टीवी से पता चला है।

  • खट्टर की अगुआई में बनी थी पहली बीजेपी सरकार

मुख्य विपक्षी आईएनएलडी के ज्यादातर विधायकों और नेताओं के बीजेपी में शामिल होने के बाद उसकी ताकत कम हो गई है, वहीं राज्य में 2014 तक लगातार दो बार सरकार बनाने वाली कांग्रेस में अंदरूनी कलह जारी हैं। 2014 में पहली बार विधायक बने मनोहर लाल खट्टर राज्य में बीजेपी के पहले मुख्यमंत्री हैं और उनका लक्ष्य चुनावों में पार्टी के प्रदर्शन को सुधारकर 48 से ज्यादा सीटें दिलाना होगा।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top