Breaking News

बयान: दिग्विजय ने आकाश का उदाहरण देकर कहा- संघ और भाजपा लोगों को मॉब लिंचिंग के लिए उकसा रही

बयान: दिग्विजय ने आकाश का उदाहरण देकर कहा- संघ और भाजपा लोगों को मॉब लिंचिंग के लिए उकसा रही

दिग्विजय सिंह ने कहा- लोगों को समय पर न्याय नहीं मिला, यह भी लोगों में गुस्से की वजह

अभिनेत्री शबाना आजमी बोलीं- सरकार के खिलाफ बोलने पर एंटी नेशनल कहा जाता है, डरना नहीं चाहिए

भोपाल। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने देश में हो रही मॉब लिंचिंग की घटनाओं के लिए भाजपा और आरएसएस (बयान: दिग्विजय ने आकाश का उदाहरण देकर कहा- संघ और भाजपा लोगों को मॉब लिंचिंग के लिए उकसा रही ) के कार्यकर्ताओं को दोषी बताया। दिग्विजय ने रविवार को इंदौर के भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय का उदाहरण देते हुए कहा कि भाजपा और आरएसएस के लोग लिंचिंग के लिए उकसा रहे हैं, इसलिए वारदातें बढ़ रही हैं। इसके इतर अभिनेत्री शबाना आजमी ने इंदौर के एक कार्यक्रम में कहा कि सरकार के खिलाफ बोलने पर आपको एंटी नेशनल कह दिया जाता है, लेकिन हमें डरना नहीं है।

दिग्विजय ने कहा, ‘‘देश में मॉब लिंचिंग के दो कारण हैं। पहला यह है कि लोगों को समय पर न्याय नहीं मिला, इसलिए लोगों के अंदर गुस्सा है। दूसरी वजह भाजपा और आरएसएस है। इनके कार्यकर्ता लोगों मॉब लिंचिंग के लिए उकसा रहे हैं। आप देख सकते हैं, आकाश विजयवर्गीय ने कहा था कि हम लोग पहले आवेदन, निवेदन और फिर दे दना-दन करते हैं। मॉब लिंचिंग इसी मानसिकता का परिणाम है।’’

शबाना ने कहा- हमें घुटने नहीं टेकने हैं

शबाना आज़मी को इंदौर में अखिल भारत समाज सेविका सम्मान से नवाज़ा गया। इस दौरान उन्होंने कहा, ‘‘आज का जो माहौल है, उसमें ज़रूरी है कि हम घुटने नहीं टेकें। ये हमारा मुल्क़ है और इसकी बेहतरी के लिए हमें उन बुराइयों की बात करना होगी, जो इसे पीछे ले जा रही हैं। लेकिन माहौल कुछ ऐसा बन रहा है कि आपने ज़रा भी बुराई की, ख़ासतौर पर सरकार के खिलाफ कुछ कहा तो आपको एंटी नेशनल (देशद्रोही) कह दिया जाता है। इससे डरना नहीं चाहिए। इस पर मैं फ़ैज़ का ये शेर सुनाना चाहूंगी- “दिल नाउम्मीद तो नहीं, नाक़ाम ही तो है, लंबी है ग़म की शाम, मगर शाम ही तो है।’’

आकाश ने निगम अधिकारी को बेट से पीटा था

26 जून को निगम अधिकारी धीरेंद्र बायस टीम के साथ इंदौर के एक जर्जर मकान को ढहाने के लिए गए थे। इस दौरान भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश समर्थकों के साथ वहां पहुंचे। टीम को बगैर कार्रवाई के लिए जाने के लिए कहा, लेकिन अधिकारियों ने कार्रवाई जारी रखी। इसके बाद गुस्साए आकाश ने बैट से अधिकारी की पिटाई कर दी थी। भाजपा अनुशासन समिति ने आकाश को नगर निगम अफसर को बैट से पीटने के मामले में जवाब देने के लिए 15 दिन का समय दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कह चुके हैं कि बेटा किसी का भी हो, इस तरह की मनमानी और घमंड बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top