पंजाब

सच कहूँ की मदद से करोड़ों रूपए का घोटाला उजागर

scandal

पनग्रेन का इंस्पेक्टर सस्पैंड

7 अप्रैल को ‘सच कहूँ’ ने किया था पर्दाफाश

गहराई से जांच के लिए टीम का गठन जल्द : डिप्टी डॉयरेक्टर

समाना(सुनील चावला)। scandal समाना के पनग्रेन गोदाम में हुए करोड़ों रुपए के अनाज घोटाले में फूड एंड सिविल सप्लाई विभाग के डॉयरेक्टर स्तर पर हुई प्राथमिक जांच दौरान पनग्रेन के इंस्पेक्टर जसप्रीत सिंह गिल को दोषी मानते हुए नौकरी से सस्पेंड कर दिया है। जबकि इस बहु करोड़ी घोटाले की बारीकी के साथ जांच के लिए सीनियर अधिकारियों पर आधारित एक टीम का जल्दी ही गठन किया जा रहा है।

सच कहूँ ने लगाई थी खबर

इससे सिविल सप्लाई विभाग के जिला स्तरीय व क्लास वन रखवाला जिन्होंने इस घोपले को दबा कर रखने में अपना योगदान पाया में दहशत फैल गई है। इस बहु करोड़पति घोटाले का सबसे पहले’सच कहूँ’ ने ही पर्दाफाश किया था।

scandal अधिकारियों ने पर्दा डाले रखा

जानकारी के अनुसार समाना पनग्रेन के इंस्पेक्टर ने उच्च अधिकारियों के साथ मिलीभगत करके करीब 27 हजार क्विंटल गेहूं गायब कर दिया था। इस घोटाले की जानकारी जिले के उच्च अधिकारियों तक तो पहंची और उन्होंने घोटाले की जांच भी की परंतु इस बहु करोड़ी घटाले में कथित दोषियों के खिलाफ कोई कार्यवाही करने की जगह मामले पर पर्दा डाले रखा।

scandal कई बड़े अधिकारी भी शामिल

बीती 7अप्रैल को’सच कहूँ’ने इस घपले का पदार्फाश करते हुए इस घोटाले की प्रमुखता के साथ खबर प्रकाशित की थी जिसके आधार पर विभाग के प्रिंसिपल सचिव ने इस घपले की जांच डॉयरेक्टर फूड एंड सिवल सप्लाई विभाग को सौंप कर एक हफ़्ते में रिपोर्ट देने के आदेश जारी किए थे। डॉयरैक्टर फूड एंड सिविल सप्लाई शिव दुलार सिंह ढिल्लों ने अपनी प्राथमिक जांच में पाया कि यह घोटाला काफी बड़े स्तर पर हुआ है जिसमें पनग्रेन के इंस्पेक्टर के अलावा इस घपले में अन्य कई अधिकारी शामिल हैं।

scandal प्रिंसीपल सचिव को सौंपी जांच

उन्होंने कहा कि प्राथमिक जांच में दोषी इंस्पेक्टर को सस्पैंड कर दिया गया है और उसको फिरोजपुर जिला दफ़्तर में भेज दिया गया है।

उनके साथ ही बताया कि इस प्राथमिक जांच रिपोर्ट को विभाग के प्रिंसिपल सचिव को भेजा जा रहा है और घपले की बारीकी के साथ जांच के लिए सीनियर अधिकारी की अगुवाई में जांच टीम का गठन किया जा रहा है जो इस घपले की पूरी रिपोर्ट तैयार करके और घपले में शामिल अन्य अधिकारियों व दूसरे लोगों के बारे में पूरी रिपोर्ट देगा और जिनसे हुए नुकसान की रिकवरी के साथ-साथ उनके खिलाफ बनती कार्यवाही की जाएगी।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top