[horizontal_news id="1" scroll_speed="0.1" category="breaking-news"]
अनमोल वचन

बुराइयां छोड़ने को एक साथ उठते हैं लाखों हाथ

रूहानी सत्संग, रूहानियत, गुरमीत राम रहीम, राम नाम, भक्ति आत्मबल

नोएडा। दुनियाभर में मानवता भलाई कार्यों का डंका बजाने वाला सर्वधर्म संगम डेरा सच्चा सौदा सामाजिक बुराईयों के खिलाफ लगातार अलख जगाता आ रहा है। यह डेरा सच्चा सौदा की पवित्र शिक्षाओं का ही परिणाम है कि आज नर्क जैसी बदतर जिंदगी जीने वाले करोड़ों लोगों का जीवन खुशहाल हो गया। ऐसे यहां एक नहीं बल्कि करोड़ों उदाहरण हैं।

इसे अगर इंसानियत का सच्चा कारखाना भी कहा जाए तो कोई अतियशेक्ति नहीं। पूज्य गुरू संत गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की पावन प्रेरणाओं पर चलते हुए अब तक करोड़ों लोग जीवन में कभी भी किसी तरह के नशे, शराब व मांस आदि का सेवन न करने के अलावा मानवता व समाज भलाई को समर्पित मरणोपरांत शरीरदान,जीते-जी गुदार्दान, नेत्रदान, नियमित रक्तदान समेत अनेक तरह के प्रण कर चुकी है और यह सिलसिला लगातार जारी है।

यहां पूज्य गुरू जी के एक आह््वान पर सामाजिक बुराइयां व बुरी आदतें त्याग अच्छी आदतें अपनाने को एक साथ करोड़ों हाथ खड़े हो जाते हैं जो कि जमाने के लिए एक मिसाल है। लोग दिल से बुरी आदतें त्यागने की तौबा तो करते ही हैं और साथ ही भविष्य में नेक इंसान बन नेकी,भलाई व इंसानियत के मार्ग पर चलने का वादा भी। ऐतिहासिक दिवसों को मनाने का ऐसा अनोखा तरीका आपने दुनिया में कहीं न देखा और न ही सुना होगा।

ऐतिहासिक दिवसों से हमारा तात्पर्य डेरा सच्चा सौदा के पवित्र माह जैसे कि पावन जनवरी, पावन अगस्त व पावन नवंबर माह जिसमें डेरा सच्चा सौदा की तीनों पातशाहीयों ने पावन अवतार लिया। उल्लेखनीय है कि बुराईयां त्यागने की मुहिम में रूहानी सत्संग व रूहानी मजलिस में पूज्य गुरू जी के आवाह्न पर हजारों की तादाद में उपस्थित साध-संगत एक साथ हाथ उठाकर बुराइयां त्यागने का संकल्प लेती है। सालभर पहले दो नवंबर 2013 को शुरू हुए बुरी इस ऐतिहासिक व अनोखे कार्य के तहत पूज्य गुरू जी के पावन आवाह्न पर डेरा सच्चा सौदा की करोड़ों लोग अब तक अपने जीवन में व्याप्त 108 बुराईयां व बुरी आदतें त्यागकर अच्छाई ,नेकी व इंसानियत के मार्ग पर चलने का संकल्प ले चुके हैं।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

 

लोकप्रिय न्यूज़

To Top