हरियाणा

हजारों गरीब मेधावियों ने दी परीक्षा, 19 को निकाला जाएगा पहला ड्रा

meritorious students

चयनित स्टूडेंट 20-25 अप्रैल तक ले सकते हैं दाखिला

भिवानी/हिसार (सच कहूँ न्यूज)। meritorious students नियम 134-ए के तहत निजी स्कूलों में गरीब मेधावी बच्चों के दाखिले के लिए रविवार को प्रदेशभर में परीक्षा का आयोजन किया गया जिसमें हजारों गरीब बच्चों ने इम्तिहान दिया। रविवार को आयोजित इस परीक्षा के कल यानि 18 अप्रैल को नतीजे घोषित कर दिए जाएंगे। इसके बाद अगले दिन 19 अप्रैल को दाखिलों का पहला ड्रा निकाला जाएगा। जिन भी विद्यार्थियों का नाम इस सूची में होगा व इसमें दिखाए गए स्कूलों में 20 से 25 अप्रैल तक दाखिला ले सकते हैं।

इस दिन निकलेगा दूसरा ड्रा

यदि फिर भी सीटें खाली रह जाती हैं तो खाली सीटों के लिए दूसरा ड्रा को 2-5 मई के बीच निकाला जाएगा। इस नियम के तहत जिन बच्चों ने 11वीं में दाखिला लेना है उसकी प्रक्रिया को दसवीं कक्षा के बोर्ड नतीजे आने के बाद शुरू किया जाएगा।
134-ए के तहत रविवार को हिसार, सरसा, भिवानी, यमुनानगर, अम्बाला, पंचकूला, फतेहाबाद, जींद, रोहतक, झज्जर, कैथल, करनाल, पानीपत, गुरुग्राम, फरीदाबाद, पलवल, सोनीपत व नूंह समेत प्रदेशभर के विभिन्न विद्यालयों में आयोजित परीक्षा देने हजारों की तादाद में विद्यार्थी उमड़े।

meritorious students 125 छात्रों ने दी परीक्षा

यहां भिवानी जिले के लिए कस्बा बाढड़़ा के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में 129 में से 125 आवेदकों ने परीक्षा में भागीदारी की। शिक्षा विभाग के कड़े सुरक्षा प्रबंधों से परीक्षा शंतिप्रिय ढंग से संपन्न होने से अभिभावकों ने राहत की सांस ली।

पा विद्यार्थियों ने किया थे आवेदन

शिक्षा विभाग द्वारा हाईकोर्ट के आदेश के बाद प्रत्येक गरीब छात्र को नि:शुल्क शिक्षा मुहैया करवाने के लिए नियम 134ए के तहत सभी पा विद्यार्थियों से अपनी अपनी संभावित कक्षाओं के लिए आवेदन आमंत्रित किए थे। इसी कड़ी में 52 गांवों के 129 बच्चों ने आवेदन किया और आज आयोजित परीक्षा शैड्यूल के तहत रविवार को आयोजित परीक्षा में 125 छात्र-छात्राओं ने भगाीदारी की।
बीईओ कार्यालय से पर्यवेक्षक के तौर पर अजीत जेवली व कस्बे के राजकीय विद्यालय में प्राचार्य बलबीर सिंह के मार्गदर्शन में मुख्याध्यापक संतराम की देखरेख में आयोजित परीक्षा पूरी तरह शांतिप्रिय ढंग से आयोजित की गई।

meritorious students निजी विद्यालय नहीं कर रहे सहयोग

इस दौरान बाहर से आने वाले अभिभावकों को शिक्षक सुमेर शास्त्री, एसएमसी अध्यक्ष धनसिंह श्योराण सहित अन्य ग्रामीणों ने मुख्य द्वार से दूर ही खदेड़ दिया। बच्चों के साथ आए बलवान सिंह, संदीप श्योराण, शक्ति सिंह, राजेश कुमार, मंजुदेवी, अनिता, सुशीला इत्यादि कई अभिभावकों ने बताया कि एक तरफ तो सरकार सभी बच्चों को नियम 134ए के तहत दाखिला देने का दावा कर रही है, जबकि दूसरी तरफ नीजि विद्यालय सरकारी तंत्र का कोई सहयोग नहीं कर रहा, इससे अभिभावकों व बच्चों में असमंजस का माहौल बना हुआ है।

सरकार को इस मामले में कोई ढिलाई नहीं बरतनी चाहिए और सख्ती से निजि विद्यालयों पर लगाम कसनी चाहिए। खंड शिक्षा अधिकारी जेपी सभ्रवाल ने बताया कि परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले सभी आवेदकों को दो दिन पूर्व ही रोल नंबर जारी कर आज सभी को परीक्षा में भागीदारी करवाई है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top