दिल्ली एनसीआर

सर्जिकल हमले का सच नहीं छिपा सकता पाक

नई दिल्ली(एजेंसी)। भारत ने कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में आतंकी शिविरों पर किए गए सर्जिकल हमले के माध्यम से वह जो संदेश देना चाहता था, इस्लामाबाद तक पहुंच गया है। पाकिस्तान सच को जितना भी छिपाने की कोशिश करे, सर्जिकल हमले की सच्चाई सबसे सामने आ ही जाएगी।
जो संदेश हम देना चाहते थे वह भी पहुंच गया
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने गुरुवार को पत्रकारों से कहा, पाकिस्तान जितना भी सच को छुपाने की कोशिश करे, सर्जिकल हमले की सच्चाई सबसे सामने आ ही जाएगी। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना को जो काम सौपां गया था और उससे जो परिणाम हम चाहते वह हमें मिला और जो संदेश हम देना चाहते थे वह भी पहुंच गया। विकास स्वरूप ने कहा कि यह सरकार के फैसले पर निर्भर करता है कि वह पाकिस्तान के इनकार के प्रयासों को दबाने के लिए सर्जिकल हमले की वीडियो क्लिप जारी करती है यह नहीं। सरकार जो कुछ भी जनता के सामने रखती है वह राष्ट्रीय सुरक्षा से निर्धारित होता है। उस पर कुछ और टिप्पणी नहीं कर सकता।
14 देश मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगाने के पक्ष में
मसूद अजहर को आतंकवादी न घोषित करने पर कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए विकास स्वरूप ने कहा कि भारत ने संयुक्त राष्ट्र कमेटी से मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है।
अगर मसूद पर प्रतिबंध नहीं लगा तो इससे दुनिया में गलत संदेश जाएगा। आज 14 देश मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगाने के पक्ष में हैं जबकि सिर्फ एक देश इसका लगातार विरोध कर रहा है। आतंकी संगठनों को संकेत मिलना चाहिए कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय अब इसे और बर्दाश्त नहीं करेंगे। चीन को साफ संदेश देते हुए कहा है कि आतंक पर चुन-चुन कर कार्रवाई नहीं कर सकते। चीन के साथ नदियों को लेकर विवाद पर स्वरूप ने कहा, ब्रह्मपुत्र पर चीन के साथ हमारा समझौता है। हमारे अधिकारी मिलते रहते हैं, सूचनाएं साझा करते हैं। ब्रह्मपुत्र और सतलज पर हमने चीनी अधिकारियों को बताया है कि इन नदियों पर कोई भी प्रोजेक्ट बनाते वक्त हमारे हितों का ध्यान जरूर रखें।
बुरहान वानी का समर्थन कर खुद फंस गया पाकिस्तान
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के संसद में दिए बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए स्वरूप कहा, पाकिस्तान बुरहान वानी का समर्थन कर खुद फंस गया है। बुरहान एक आतंकी था, हिजबुल के कमांडर को युवा नेता मानेंगे तो और क्या संदेश जाएगा। नवाज शरीफ को संयुक्त राष्ट्र में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने जवाब दे ही दिया था। विश्व समुदाय पाकिस्तान के आधारहीन प्रॉपेगेंडा पर नहीं जा रहा है। बार-बार झूठ बोलने से वह सच में नहीं बदल जाता।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top