Breaking News

पानीपत में बुराड़ी जैसी घटना, एक ही घर में फांसी पर झूल रही थी तीन लाशें

Suicide, Man, Children, Haryana
  • गंभीर हालत में अस्पताल में उपचाराधीन

पानीपत (सच कहूँ न्यूज)। दिल्ली के बुराड़ी में एक साथ 11 लोगों के फांसी लगाए जाने की घटना को तो अभी लोग भुला ही नहीं पाए थे कि अब हरियाणा के पानीपत के सेक्टर-11 स्थित एक मकान में एक पुरुष व दो बच्चों के शव फंदे पर लटके मिले जबकि फंदा खुलने से महिला की जान बच गई, गंभीर हालत में उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। मृतक यहां किराये के मकान में रह रहे थे। मकान मालिक ने जब किरायेदार के कमरे में झांककर देखा तो उसका शव फंदे से लटका हुआ था और पत्नी फर्श पर पड़ी थी। दरवाजा तोड़कर देखा तो घर के दूसरे कमरे में बच्चों के भी शव पड़े थे, महिला की सांसें चल रही थी। उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

पूरे घटनाक्रम में अभी तक कोई खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। मकान मालिक अनिल बत्रा ने बताया कि मूल रूप से समालखा का रहने वाला रितेश गर्ग पिछले कुछ समय से सेक्टर-11 में बने उसके मकान में किराये पर रह रहा था। उसके साथ उसकी पत्नी रेखा, 15 वर्षीय बेटा वंश और 10 वर्षीय बेटी पुष्टि रहती थी। बुधवार रात लगभग साढ़े नौ बजे रेखा के परिजनों ने उसके फोन पर फोन किया लेकिन उसने कॉल रिसीव नहीं की। ऐसे में उन्होंने अनिल बत्रा के पास फोन किया।

फंदे पर मिली पिता व दो बच्चों की
लाश, फंदा खुलने से नीचे गिरी महिला

अनिल बत्रा ने छत पर उनके कमरे में जाकर देखा तो अंदर रितेश गर्ग फंदे से लटका हुआ था। उसने दरवाजा तोड़ा तो रेखा फर्श पर पड़ी थी। फंदा खुलने के कारण उसकी जान बच गई थी, सांसें चल रही थी।

आनन-फानन में पुलिस को सूचना देकर रेखा को अस्पताल पहुंचाया गया। जहां उसका इलाज चल रहा है। अनिल बत्रा ने दूसरे कमरे का दरवाजा खोला तो रेखा और वंश मृत पड़े थे। आशंका जताई जा रही है कि जहर देकर उन्हें फंदे पर लटका दिया गया। पुलिस और फारेंसिक टीम मौके पर पहुंचकर जांच कर रही है। समाचार लिखे जाने तक मौत के कारणों का कोई खुलासा नहीं हो पाया था।

 

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top