हरियाणा

घाना से हरियाणा में आ रही ड्रग्स, पुलिस मुठभेड़ में मारा गया तस्कर तो खुला राज

Smuggler, Killed, Police Encounter, Haryana

फरीदाबाद के सूरजकुंड में ड्रग्स सप्लाई को आए थे दो विदेशी तस्कर, एक ढ़ेर, दूसरा गिरफ्तार

सच कहूँ/राजेन्द्र दहिया/फरीदाबाद। हरियाणा में विदेशों से ड्रग्स सप्लाई का धंधा चरम पर चल रहा है। फरीदाबाद के सूरजकुंड मेंं ड्रग्स सप्लाई करने आए विदेशी ड्रग्स तस्करों से एक तस्कर शुक्रवार को पुलिस मुठभेड़ में मारा गया। मृतक ड्रग्स तस्कर की पहचान घाना देश के निवासी माईकल ईशान के रूप में हुई है जबकि दूसरे को पुलिस ने काबू कर लिया।

तस्करों से बरामद ड्रग्स की अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कीमत 55 लाख रूपए

गुरुग्राम क्राइम ब्रांच पुलिस सूचना के आधार पर इन आरोपियों की गाडी का पीछा कर रही थी जो ओला कैब में सवार होकर फरीदाबाद की तरफ आ रहे थे। समय रहते गुरुग्राम पुलिस ने सूरजकुंड रोड स्थित एमवीएन नाके की पुलिस को सूचना दी जिस पर पुलिस ने गाड़ी को जैसे ही रुकवाया तो उनमे से एक नाइजीरियन युवक झाड़ियों की तरफ भागने लगा पुलिस पीआरओ द्वारा जारी जानकारी के अनुसार युवक ने हथियार निकालकर पुलिस पर फायर करने की कोशिश की जिसे पुलिस के जवानो ने पकड़ने की कोशिश की। इसी दौरान पकड़ा-पकड़ी में नाइजीरियन युवक को उसी के हथियार से गोली लग गयी और उसकी मौत हो गयी. पुलिस को गाडी में से नशीले पदार्थ की खेप भी मिली है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जब गुरुग्राम से आ रही ओला कैब को सूरजकुंड इलाके की पुलिस के नाके पर रोका गया तो गाडी में बैठा एक नाइजीरियन हाथो में हथियार लेकर झाड़ियों की तरफ फायर करता हुआ भागने लगा पीछा करने पर पुलिस पार्टी ने उसे घेर लिया और जब उसे हथियार समेत काबू करना चाहा तो इसी दौरान उसी के रिवाल्वर की गोली उसे लग गयी और उसकी मौत हो गयी।

मरने वाले नाइजीरियन का नाम माइकल ईशान बताया गया है जबकि दूसरे आरोपी को पुलिस ने काबू कर लिया। पुलिस के अनुसार इन लोगों के कब्जे से एक पिस्टल दो जिंदा कारतूस और सफेद और ब्राउन रंग का नशीला पदार्थ कोकीन मिला है जिसकी कीमत अंर्तराष्ट्रीय बाजार में करीब 55 लाख रुपए बताई जा रही है।

गिरफ्त में आए आरोपी से अभी खुलेंगे और राज

घाना देश के रहने वाले माइकल ईशान की मौत मामले में फरीदाबाद के डीसीपी लोकेन्द्र सिंह व एसीपी क्राइम गुरूग्राम शमशेर दहिया ने बताया कि गुरुग्राम सीआईए टीम दो विदेशी सस्पेक्ट्स के पीछे थी जो एनडीपीएस (ड्रग्स) की सप्लाई में इन्वाल्व थे जिन्हें पकड़ने के लिए फरीदाबाद सूरजकुंड रोड पर गुरुग्राम की सीआईए आई हुई थी। उन्होंने बताया की यह दोनों फरीदाबाद की ग्रीन फील्ड कालोनी में रह रहे थे। पुलिस की जांच अभी जारी है और पकड़े गए एक आरोपी से अभी पूछताछ की जा रही है।

सफाई वाली को देखकर ही लगता था डर

घाना देश का रहने वाला माइकल ईशान ग्रीन फील्ड कालोनी स्थित फ्लेट नंबर 2821 में रहता था। इसी बिल्डिंग में रहने वाले अन्य लोगो सरोज, बबली व किशोन ने बताया की यह विदेशी युवक पिछले एक साल से यहाँ रह रहा था और वह कई-कई दिन तक अपने फ्लेट पर नहीं आता था। उन्होंने बताया की इस फ्लेट में वह अकेला रहता था और किसी से मिलता जुलता नहीं था।

वहीं फ्लेट्स में काम करने वाली एक बाई ने बताया की एक बार इसी नाइजीरियन ने उसे साफ सफाई के काम के लिए कहा था लेकिन उसने इंकार कर दिया था क्योंकि उसे देखकर ही उसे डर लगता था।

 

 

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top