पंजाब

शनिवार देर रात दो बाइक सवार युवकों ने गोलियों ने भूना, मौत

Shot Dead, Men, Bike Riders, Highway Jam, Police, Punjab

पादरी की हत्या पर बवाल, हाइवे जाम

  • सड़कों पर उतरे लोग, प्रशासन खिलाफ नारेबाजी की

लुधियाना (सच कहूँ न्यूज)। सलेम टाबरी के पीरू बंदा इलाके में स्थित एक चर्च के सीनियर पास्टर की दो अज्ञात लोगों ने शनिवार रात करीब साढ़े आठ बजे गोली मारकर हत्या कर दी। पल्सर बाइक पर आए हमलावरों ने पादरी पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं और फरार हो गए। गंभीर रूप से घायल 50 वर्षीय पास्टर सुल्तान मसीह को डीएमसी पहुंचाया गया, लेकिन रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया। वहीं, घटना के विरोध में सैकड़ों लोगों ने जालंधर हाईवे पर धरना देकर जाम लगा दिया। उन्हें मनाने के लिए विधायक भारत भूषण आशू, सुरिंदर डाबर, कुलदीप सिंह वैद्य, संजय तलवाड़ पहुंचे, लेकिन उन्होंने अपना धरना जारी रखा।

लोगों में आक्रोश

बताया गया है कि एक गोली पास्टर के सिर और दो गोलियां पीठ पर लगी। यह भी कहा जा रहा है कि तीनों हमलावरों में से दो मोने थे और एक ने सिर पर कपड़ा बांधा हुआ था। घटना के बाद देर रात समुदाय के करीब 400 लोगों ने पुराने जीटी रोड पर जाम लगा दिया। अभी भी गुस्साए लोग जालंधर हाईवे पर बैठे हुए हैं। लुधियाना के कमिश्नर आरएन ढोके सहित तमाम उच्च पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लिया।

अस्पताल में तोड़ा दम

आॅल इंडिया क्रिश्चियन फेडरेशन के प्रेसीडेंट अरुण हेनरी ने बताया कि पास्टर उसी चर्च में रहते थे। रात करीब साढ़े आठ बजे वह चर्च परिसर स्थित अपने कमरे से मोबाइल पर बातें करते हुए बाहर निकले थे। इसी दौरान तीन लोग वहां पहुंचे और उन्होंने करीब से उन पर एक के बाद एक गोलियां चला दीं। उन्हें डीएमसी पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

सीसीटीवी खंगाल रही पुलिस

लुधियाना के पुलिस कमिश्नर आरएन ढोके का कहना है कि घटना की जानकारी मिलने के तत्काल बाद मौके पर पुलिस पहुंची और सीसीटीवी कैमरों की रिकॉर्डिग खंगाल रही है। पुलिस को कुछ सुराग मिले हैं। आसपास के थानों को अलर्ट कर दिया गया है और नाकेबंदी करवाई गई है। हमलावरों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

दो बच्चों ने देखा था गोली लगते

बताया जाता है कि घटना के दौरान चर्च के पास ही दो बच्चे डेविड और विलियम खड़े थे, जिन्होंने हमलावरों को पास्टर पर गोली चलाते देखा। उन्होंने बताया कि बाइक से आए तीनों हमलावर गोलियां बरसानी शुरू कर दीं और पास्टर के गिरते ही वहां से फरार हो गए।

एक वर्ष पहले बेटी की हुई थी मौत

पादरी की दो बेटियां और दो बेटे हैं। एक बेटी हैमर थ्रो की एथलीट थी। एक साल पहले स्टेडियम में अभ्यास के दौरान हैमर लगने से उसकी मौत हो गई थी। दूसरी बेटी शादीशुदा है। बेटे पिता के साथ ही सलेम टाबरी में रह रहे हैं।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top