खेल

शारापोवा को फ्रेंच ओपन में वाइल्ड कार्ड नहीं

Maria Sharapova, Wild Card, French Open, Tennis

करियर में तीसरा फ्रेंच ओपन खिताब जीतने का सपना टूटा

पेरिस (एजेंसी)।डोपिंग के लिए निलंबन झेल चुकीं रुस की मारिया शारापोवा को फ्रेंच ओपन ग्रैंड स्लेम टेनिस टूर्नामेंट में वाइल्ड कार्ड प्रवेश देने से इंकार कर दिया गया है जिससे उनका करियर में तीसरा फ्रेंच ओपन खिताब जीतने का सपना आखिरकार टूट गया है। फ्रेंच टेनिस फेडरेशन (एफएफटी) अध्यक्ष बर्नार्ड गियुडिसेली ने कहा कि आपको चोट से वापसी के बाद वाइल्ड कार्ड दिया जा सकता है लेकिन जब आप डोपिंग के कारण निलंबन से वापसी कर रहे हों तो वाइल्ड कार्ड नहीं दिया जा सकता है।

मेरी जिम्मेदारी है कि

मैं मारिया के मीडिया में प्रभाव और प्रसारकों की उम्मीदों की सराहना करता हूं लेकिन डोपिंग रोधी नियमों के आधार पर यह संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि मुझे मारिया के लिए दु:ख हो रहा है और उनके प्रशंसकों के लिए भी। वे काफी निराश होंगे, लेकिन ये मेरी जिम्मेदारी है कि मैं खेल के सर्वाेच्च स्तर को बनाए रखूं। 30 वर्षीय शारापोवा को गत वर्ष प्रतिबंधित मेलडोनियम पदार्थ के सेवन का दोषी पाया गया था जिसके बाद उन पर 15 महीने का प्रतिबंध लगाया गया था। गत माह कोर्ट पर वापसी कर रहीं रुसी खिलाड़ी को कई टूर्नामेंटों में वाइल्ड कार्ड दिए जाने के बाद यह माना जा रहा था कि उन्हें वर्ष के दूसरे ग्रैंड स्लेम के लिए आयोजक वाइल्ड कार्ड दे सकते हैं।

पूर्व नंबर एक खिलाड़ी अपने प्रतिबंध के कारण मौजूदा विश्व रैंकिंग में 211वें स्थान पर खिसक चुकी हैं और इस कारण से रोलां गैरों के मुख्य ड्रा में उन्हें प्रवेश मिलना संभव नहीं है। ऐसे में शारापोवा को फ्रेंच ओपन में वाइल्ड कार्ड प्रवेश का ही सहारा था जिसका मुख्य ड्रा 28 मई से शुरु होने जा रहा है जबकि क्वालीफाइंग मैच इससे एक सप्ताह पहले होंगे। वर्ष 2004 में विम्बलडन खिताब जीत चुकीं शारापोवा को यहां आॅल इंग्लैंड क्लब के मुख्य ड्रा में पहुंचने के लिए भी वाइल्ड कार्ड की जरुरत है। हालांकि इटालियन ओपन के पहले राउंड में जीत से उन्होंने विम्बलडन क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में जरुर जगह पक्की कर ली है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top