कृषि

कपास की फसल पर बीमारियों का छाया प्रकोप

Cotton Crops

कपास की  फसलें(Cotton Crops)सफेद काली मच्छरी, कातरा नामक रोग से प्रभावित

खाटलबाना (सच कहूँ न्यूज)। सीमावर्ती क्षेत्र के गांव खाटलबाना सहित आसपास के गांव में नरमे में कपास(Cotton Crops)की फसलों पर कई तरह की बीमारियों का प्रकोप देखने को मिल रहा है। गांव का खाटलबाना के किसान मंसाराम, धर्मचंद सिकंदर सिंह व रमेश कुमार आदि ने जानकारी देते हुए बताया कि नरमे में सफेद काली मच्छरी, कातरा नामक रोग फसलों पर देखने को मिल रहे हैं। इसके साथ पत्तों का सिकुड़ना इस तरह की बीमारियों की जानकारी दी।

पत्तों के सिकुड़ने से नरमे के पौधे का विकास रुक जाता है और धीरे-धीरे पौधा खत्म हो जाता है, अगर समय पर दवा का छिड़काव कर  देखभाल नहीं की गई ।नरमा नामक बारीक तरह की सुंडी होती है जो पत्तों व टिंडों को धीरे-धीरे कुतरती रहती है। जिससे नरमे व कपास (Cotton Crops)का पौधा सुखने लगता है, और पौधे से खत्म हो जाता है, फूलों का गिरना शुरू हो जाता है।

इस तरह से नरमा,कपास (Cotton Crops)का पौधा धीरे-धीरे सूखने लग जाता है। धीरे-धीरे पूरे खेत में लगती है, किसानों ने बताया कि कई बार तीन-चार बार दवाई का छिड़काव किया गया, मगर यह बीमारी कुछ कम हुई है, अगर दवाई का छिड़काव करें तो फसल पूरी तरह से खराब हो जाती है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें

 

लोकप्रिय न्यूज़

To Top