Breaking News

संभाल नहीं सकते तो गिरा दो ताजमहल

taj demolish

ताजमहल को लेकर सुप्रीम कोर्ट की केन्द्र सरकार को कड़ी फटकार / taj demolish

नई दिल्ली (एजेंसी)। उच्चतम न्यायालय ने आगरा के (taj demolish) ऐतिहासिक ताज महल को संरक्षित करने के केन्द्र  और उत्तर प्रदेश सरकारों के तरीकों पर गहरी नाखुशी जाहिर करते हुए कहा है कि अगर उसकी उचित देखरेख नहीं संभव है तो उसे ढहा दिया जाये। न्यायमूर्ति मदन बी लोकुर की अध्यक्षता वाली खंड पीठ ने ताज महल के उचित रखरखाव संबंधी एक याचिका पर सुनवाई करते हुए यह टिप्पणी की। न्यायालय ने कहा, ‘या तो हम ताज महल को बंद कर दें अथवा आप उसे ढहा दीजिए या फिर उसकी उचित देखरेख कीजिए।शीर्ष अदालत ने ताज महल के रखरखाव को लेकर गहरी नाखुशी जाहिर करते हुए कहा, ‘ताज महल एफिल टॉवर से ज्यादा खूबसूरत है और यह देश की विदेशी मुद्रा संबंधी समस्या का समाधन कर सकता है लेकिन उसकी वर्तमान स्थिति और दशा दयनीय है। इसका संरक्षण, सुरक्षा और रखरखाव जिस तरीके से किया जा रहा है उससे ताज महल की दशा बिगड़ती जा रही है।

-कोर्ट ने टीटीजेड के चेयरमैन को तलब किया

-ताजमहल को लेकर घोर उदासीनता

-ताजमहल के संरक्षण से खत्म हो सकती

-है विदेशी मुद्रा की समस्या

हमारा ताज पेरिस के एफिल टॉवर से ज्यादा खुबसूरत / taj demolish

न्यायालय ने कहा, ‘एफिल टॉवर को देखने आठ करोड़ लोग देखने जाते हैं। हमारा ताज महल उससे ज्यादा खूबसूरत है। यदि आप इसकी उचित देखरेख करें तो आपकी विदेशी मुद्रा की समस्या का समाधान हो सकता है। उच्चतम न्यायालय ने उत्तर प्रदेश सरकार की खिंचाई करते हुए कहा कि वह ताज महल को संरक्षित और सुरक्षित करने से संबंधित दृष्टि पत्र प्रस्तुत करे। न्यायालय ने केन्द्र सरकार से भी कहा कि वह इस संबंध में अपना विवरण पेश करे। न्यायालय ने ताज ट्रेपेजियम जोन के अध्यक्ष से कहा कि वह जोन में औद्योगिक इकाइयों के विस्तार पर रोक लगाने के उसके आदेश के उल्लंघन के बारे में जानकारी दें। इस मामले में 31 जुलाई से नियमित सुनवाई होगी।

ताज महल दुनिया के सात अजूबों में शामिल / taj demolish

गौरतलब है कि मई में न्यायालय ने कहा था कि ताजमहल पीला पड़ रहा है और अब वह प्रदूषण के कारण भूरा और हरा हो रहा है।मुगल बादशाह शाहजहां की बेगम मुमताज महल की याद में सत्रहवीं शताब्दी में बनाया गया ताज महल दुनिया के सात अजूबों में शामिल है। इसे देखने के लिए दुनिया भर से लाखों लोग प्रतिवर्ष आगरा जाते हैं। यूनेस्को ने इसे विश्व धरोहर की सूची में शामिल किया है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

FIFA 2018 World Cup