[horizontal_news id="1" scroll_speed="0.1" category="breaking-news"]
राजस्थान

साम्पद्रायिक तनाव मामला: आठ मुकदमे दर्ज, 23 उपद्रवी काबू

  • तीन दिन बाद खुले शहर के बाजार
  • एहतियात के तौर पर पुलिस गश्त जारी

Bheelwada, SachKahoon News: भीलवाड़ा शहर में तीसरे दिन आम जनजीवन तेजी से सामान्य होता जा रहा है तथा बाजार भी खुलने शुरू हो गए है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ज्योति स्वरूप शर्मा ने बताया कि एहतियात के तौर पर जिले में पुलिस गश्त जारी है तथा कहीं से भी अभी तक कोई अप्रिय घटना की जानकारी नहीं मिली है। उन्होंने बताया कि ईद मिलान्नुदबी के दिन फैले साम्पद्रायिक तनाव में पुलिस ने विभिन्न थाना क्षेत्रों में आठ मुकदमे दर्ज करने के साथ ही 23 और उपद्रवियों को हिरासत में लिया है। उन्होंने बताया कि भीलवाड़ा में गुलमंडी और सर्राफा बाजार में दुकाने सामान्य की भांति खुली और आमजन जीवन सुचारू हो गया है। उन्होंने बताया कि भीमगंज थाना क्षेत्र में तीन जिलों टोंक,नागौर और अजमेर से आए पुलिस अधिकारी कैंप कर रहे है, वहीं जिले भर के आरपीएस और सर्कल इंस्पेक्टर लगातार गश्त कर रहे है। राजस्थान आर्म्ड कोर तथा नारेली से आए पुलिस स्क्वाड को भी अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में गश्त पर लगाया गया है। उन्होंने नागरिकों से अफवाहों पर ध्यान नहीं देने तथा संदिग्ध गतिविधियों की सूचना पुलिस को देने की अपील की है। वृताधिकारी विमल सिंह ने बताया की भीलवाड़ा के भीमगंज तथा प्रतापनगर थानॉ में मंगलवार रात पुलिस ने चार-चार मुकदमें दर्ज किए है जिनमें क्रमश: ग्यारह और बारह युवकों को हिरासत में लिया गया है। इन्हें विभिन्न मुकदमों और धाराओं में गिरफ्तार किया जाएगा।

उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग
वहीं दूसरी ओर नागरिक सुरक्षा समिति के संरक्षक हनुमान प्रसाद अग्रवाल तथा अध्यक्ष उम्मेद सिंह राठोर ने कलेक्टर महावीर शर्मा को ज्ञापन देकर पुराने भीलवाड़ा में रह रहे हिंदुओं की सुरक्षा बढ़ाने तथा उपद्रवियों के खिलाफ 17 दिसंबर तक प्रभावी कार्रवाई करने की मांग की है। विश्व हिन्दू परिषद प्रदेश महामंत्री सुरेश गोयल और भीलवाड़ा के महा संघचालक ने भी पुलिस अधीक्षक तथा कलेक्टर से घटनाक्रम के प्रति अपना रोष जाहिर किया है।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top