हरियाणा

हाईकमान टिकट दे तो असंध से जरूर लडूंगा चुनाव

Sach Kahoon, Face To Face, Haryana Congress, Sher Pratap Sheri

फेस टू फेस: हरियाणा कांग्रेस किसान सैल के अध्यक्ष
शेर प्रताप शेरी से विशेष बातचीत

  • मुझे पूरी उम्मीद मैं ही जीतूंगा चुनाव
  • जीत के बाद असंध को जिला बनवाना ही प्राथमिकता

सच कहूँ/राहुल/असंध। यदि कांग्रेस हाईकमान मुझे असंध हल्के से टिकट प्रदान करती है तो विधानसभा चुनाव जरूर लड़ूंगा। हल्के की जनता का मुझे भारी समर्थन मिल रहा है, और मुझे पूरी उम्मीद है कि विजय पताका भी मैं ही फहराऊंगा। चुनाव जीतने के बाद हल्का असंध को जिला बनाने की मांग को पूरा करवाना ही प्राथमिकता रहेगी। यह कहना है हरियाणा कांग्रेस किसान सैल के अध्यक्ष शेर प्रताप शेरी का। सच कहूँ से विशेष बातचीत में उन्होंने बताया कि इलाके में शिक्षा, स्वास्थ्य, खेल, स्टेडियम आदि मांगों को भी पूरा किया जाएगा।

किसानों की दशा पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि पिछले चार वर्षों में बीजेपी के कार्यकाल मे किसानों की जो बुरी दशा हुई है वह असहनीय है। कांग्रेस के दस साल के कार्यकाल मे प्रदेश का हर किसान कर्जमुक्त था व खुशहाली का जीवन जी रहा था लेकिन वर्तमान सरकार के कार्यकाल में प्रदेश का हर वर्ग दु:खी है।

जैसे अभी धान लगाने का सीजन भी चला हुआ है लेकिन हरियाणा के किसानों को पानी नहीं मिल रहा, इसका बड़ा कारण यह है कि हरियाणा की नहरों में पानी नहीं है व पानी सारा राजस्थान को दिया जा रहा है। यदि किसान ट्यूबवैल का भी सहारा लें तो खेतों में बिजली केवल डेढ़ या दो घंटे ही चलती है। दूसरी ओर किसानों का गन्ना, चना व फसल की बिक्री भी सरकारी रेटों पर नहीं हो रही। यदि ऐसे ही हालात रहे तो किसान खेती छोड़ने पर विवश हो जाएगा। आज महंगाई व बेरोजगारी भी एक बड़ी चुनौती बनी है।

पिता से विरासत में मिली राजनीति

हरियाणा किसान सैल के अध्यक्ष शेर प्रताप शेरी के अनुसार राजनीति उन्हें पिता सरदार जगजीत सिंह से विरासत में मिली है। उन्होंने बताया कि उनके पिता कांग्रेस के पूर्व ब्लॉक प्रधान लाला टीका राम से प्रेरित होकर पिछले 35 वर्षो से राजनीति मे सक्रिय है। शुरूआत से ही कांग्रेस पार्टी के साथ रहे है व एक कार्यकर्ता के रूप मे सेवा की है, लेकिन वह कांग्रेस पार्टी के राष्टÑीय अध्यक्ष राहुल गांधी व प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर का आभार व्यक्त करते हैं कि उन्होंने एक किसान के बेटे को हरियाणा किसान सैल के अध्यक्ष के रूप में चुना है।

अत: वह पूरी मजबूती के साथ पार्टी के साथ खड़े हैं। उन्होंने बताया कि पूर्व में वह हरियाणा से राजीव गांधी ब्रिगेड के उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं व यूथ कांग्रेस कमेटी के सचिव एवं जिला प्रधान के रूप मे भी सेवा कर चुके हैं। वर्तमान मे वह प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य व हरियाणा किसान सैल के अध्यक्ष के पद पर हैं।

स्थानीय विधायक चुनने पर ही होगा इलाके का चहुंमुखी विकास

हल्के के पीडछÞेपन पर श्ोरी ने कहा कि इसका बड़ा कारण यह है कि हल्के की जनता हर बार बाहरी प्रत्याशी को चुन लेती है, जब स्थानीय प्रत्याशी को नहीं। इसीलिए बाहरी उम्मीदवार हल्के की समस्या को नहीं समझते जिस कारण हल्के के विकास कार्यों में कोई वृद्धि नजर नहीं आती। उन्होंने कहा कि यदि जनता अपने हल्के के स्थानीय उम्मीदवार को चुनती है तो हल्के का चहुंमुखी विकास होगा व युवाआें को रोजगार भी मिलेगा।

 

 

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top