Breaking News

कालाधन खपाने की थी तैयारी, गाड़ी से मिले 22 लाख

  • 50 नोट एक-एक हजार व 4300 नोट 500-500 के
  • पुलिस ने हिरासत में लिए 3 लोग

Kaithal, Pardeep Dalal: तितरम पुलिस द्वारा नाकाबंदी के दौरान 3 संदिग्ध व्यक्तियों को बोलेरो गाड़ी समेत काबू किया गया, जो गाड़ी में नोटों से भरा हुआ बैग लिए हुए थे।
मौके पर डिप्टी डायरैक्टर ईन्कम टैक्स करनाल (ईन्वैस्टीगेशन) की टीम को बुलाकर कार्रवाई दौरान की गई गिनती में बैग से सरकार द्वारा बंद किए जा चुके पुराने 1000 व 500 रुपये वाले नोटों वाली कुल 22 लाख रुपये नकदी बरामद हुई, जिसकी अपनी होने बारे कोई आरोपी सबूत पेश नहीं कर सके। नियमानुसार कार्रवाई उपरांत 22 लाख रुपये नकदी व गाड़ी को डिप्टी डायरैक्टर ईन्कम टैक्स की मार्फत पुलिस ने कब्जे में ले लिया। पुलिस अधीक्षक सुमेर प्रताप सिंह ने बताया कि गुप्त जानकारी प्राप्त होने उपरांत थाना प्रबंधक तितरम संबइंस्पेक्टर मंदीप सिंह की अगुBlack Moneyवाई में एएसआई धर्मपाल, एएसआई वजीर सिंह, हेडकांस्टेबल शीशपाल, सिपाही कर्ण सिंह व सिपाही विजेंद्र की टीम 29 नवम्बर की दोपहर तितरम चौक पर नाकाबंदी किए हुए थे।

असंध की तरफ से आई एक बलोरो गाड़ी को रुकवाया गया, जिसमें चालक सहित 3 व्यक्ति सवार थे। पूछताछ करने पर गाड़ी में सवार व्यक्तियों अपने नाम मुकेश कुमार निवासी डोगरा गेट कैथल, सुरेश कुमार निवासी झमौला थाना जुलाना जिला जींद व चालक ने अपना नाम विपिन निवासी तितरम बताया। गाड़ी के मध्य वाली सीट पर बैठे मुकेश के साथ रखे काले रंग के संदिग्ध सूटकेस को पुलिस द्वारा चैक किया गया तो उसमें सरकार द्वारा बंद किए जा चुके काफी नोटों की गड्डियां दिखाई दी। पूछताछ करने पर मुकेश ने बताया कि ये नकदी उसकी है, परंतु नकदी को अपने कब्जे में रखने बारे वह कोई ठोस सबूत पेश नहीं कर सका। जब नोटों की गिनती की गई तो 50 नोट एक-एक हजार वाले तथा 4300 नोट 500-500 वाले सहित कुल 22 लाख रुपए की पुरानी करंसी बरामद हुई। पुलिस ने 22 लाख रुपये के नोट व गाड़ी को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top