हरियाणा

रादौर में सबसे ज्यादा 66 मिलीमीटर बरसात

Rain, Haryana, Grain Crop, Villagers, Summer, Relief

राहत। यमुनानगर में झमाझम, सड़कें-कालोनियां
लबालब, किसानों के खिले चेहरे | Rain

सच कहूँ/लाजपतराय/यमुनानगर। देर रात हुई तेज बरसात (Rain) से जहां आम लोगों को कई दिनों से पड़ रही भीष्ण गर्मी से राहत मिली है वहीं किसानों के चेहरों पर भी रोनक लौट आई है। वहीं बरसात ने प्रशासन के पानी निकासी के प्रबन्धों की भी पोल खोल कर रख दी। बरसात से जहां कई कालोनियां जलमग्र हो गई वहीं राहगीरों को भी सड़कों पर जमा पानी से परेशान होना पड़ा। मिली जानकारी अनुसार गत दिवस रादौर में सबसे ज्यादा 66 मिलीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की गई।

प्रशासन के पानी निकासी के प्रबन्धों की खुली पोल

जबकि सरस्वती नगर में सबसे कम 2 मिलीमीटर, सढौरा में 22 मिलीमीटर, जगाधरी में 38 मिलीमीटर, छछरोली में 10 मिलीमीटर, व बिलासपुर में 09 मिलीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की गई। वहीं बरसात न होने से किसानों को धान की रोपाई में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। धान की रोपाई के लिए खेतों को तैयार करने के लिए पानी की भरपूर मात्रा न हो पाने से दोचार होना पड़ रहा था लेकिन बारिश होने से किसानों की अधिकतर परेशानियों पर अंकुश लग गया है।

धान रोपाई के कार्य ने भी पकड़ी रफ्तार

  • किसान नरेश कुमार, रामसिंह , जसबीर व रायसिंह ने बताया कि धान रोपाई का सीजन अब अन्तिम दौर में है।
  • जिससे बारिस न होने के कारण उन्हें धान की फसल की रोपाई करने के लिए केवल टयूबवैल पर निर्भर रहना पड़ रहा था
  • जिसे लेकर वे टयूब्वैल के सहारे अपनी फसल को तैयार करना उनके लिए मुष्किल हो रहा था।
  • उन्होंने बताया कि मंगलवार रात को हुई बरसात उनकी फसलों के लिए वरदान साबित होगी।
  • गत रात्रि हुई बरसान से उनकी अन्य फसलों में पानी आ गया है
  • जिससे अब वे धान की फसल में पूरा पानी देकर अच्छाी पैदावार ले सकेंगे।

कालोनियां व सड़कें लबालब

रविन्द्र , रामकुमार , राजबाला, सुनीता व कविता ने बताया कि रादौर में हुई तेज बारिस से उनकी कालोनी में पानी भर गया जिससे उन्हें अपने घरों में ही रहना पड़ गया है। उनके घरों के आगे काफी पानी भर गया जिससे कालोनी में मक्खी-मच्छरों की भरमार होने से बीमारी फैलने का खतरा बन गया। वहीं एसके मार्ग पर भरा पानी भी राहगीरो की परेशानी का सबब बना रहा।

गर्मी से मिली राहत | Rain

  • शालू , नवीना, रजनी ने बताया कि कई दिनों से भीष्ण गर्मी पड़ रही थी,
  • जिससे उन्हें अपने कार्याें व स्कूल-कॉलेज में आते जाते तपती गर्मी से सामना करना पड़ रहा था,
  • लेकिन बीती रात्रि हुई तेज बारिश से उन्हें गर्मी काफी राहत मिली है।
  • बारिश का मौसम कई दिनों तक चले तभी गर्मी से अधिक राहत मिल सकेगी।

 

 

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top