हरियाणा

वीआईपी सुरक्षा में तैनात मुलाजिम अब नहीं कर पाएंगे चाकरी

Policeman Nappen

शिकंजा। अपनी मूल ड्यूटी छोड़ आकाओं को खुश करने के लिए हर काम करने को तत्पर रहने वाले पुलिसकर्मी अब नपेंगे/ Policeman Nappen

रोहतक रेंज के आईजी ने सभी जिला पुलिस कप्तानों को पत्र जारी कर दिए आदेश

भिवानी सच कहूँ न्यूज/इन्द्रवेश।अब वीआईपी सुरक्षा में तैनात पुलिस कर्मचारी अपने आकाओं की चाकरी नहीं कर पाएंगे। (Policeman Nappen) इतना ही नहीं निर्धारित खाकी वर्दी को छोड़ सादी वर्दी में घरेलू कार्यों में हाथ बंटाने एवं साहब की गाड़ी चलाने तक पर भी पाबंदी रहेगी। जी हां यह हम नहीं बल्कि खुद पुलिस मान रही है कि अधिकांश सुरक्षा ड्यूटी में तैनात गनमैन अपना मूल कार्य भूलकर आकाओं (जिसको सुरक्षा दी गई है) उसको खुश करने के लिए हर कार्य के लिए खुद को हमेशा तत्पर रखते हैं, फिर चाहे साहब का कोई घरेलू कार्य ही क्यों ना हो। बात गाड़ी चलाने की आती है तो उसे भी चलाते हैं।इस दौरान वो अपना वो दायित्व भूल जाते हैं, जिसके लिए उन्हें यहां पुलिस विभाग की तरफ से तैनात किया गया है। अब ऐसे पुलिस सुरक्षा कर्मियों के नपने की बारी आ गई है।

पत्र जारी कर सख्त हिदायतें दी/ Policeman Nappen

जिला पुलिस कप्तान ने सभी थाना प्रबंधकों को पत्र जारी कर सख्त हिदायतें दी हैं कि जिन मुलाजिमों को सुरक्षा ड्यूटी यानी गनमैन लगाया गया है, उनके कार्यों के प्रति सजग किया जाए। अगर ऐसे कर्मचारी किसी का व्यक्तिगत घरेलू कार्य या फिर गाड़ी चलाने जैसा कार्य करते हुए पाए जाते हैं तो उनके खिलाफ सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई भी अमल में लाई जाएगी। हरियाणा पुलिस द्वारा वीआईपी व वीपीआईपी लोगों की सुरक्षा के लिए गनमैन मुहैया कराती हैं, इसके अलावा उन लोगों को भी सुरक्षा दी जाती है, जो किसी से अपनी जान का जोखिम जताते हैं। उस परिस्थिति में न्यायालय के आदेश या फिर जिला पुलिस कप्तान अपने विवेक से भी उसे पुलिस सुरक्षा मुहैया करा सकते हैं।

पत्र में दिए गए हैं ये निर्देश/ Policeman Nappen

इसीलिए पत्र में यह भी स्पष्ट किया गया है कि सभी गनमैन पेटर्न की साफ सुथरी वर्दी पहनेंगे। इसके अलावा वे अपने साथ अपना असलाह हमेशा साथ रखेंगे और उसकी साफ सफाई का जिम्मा भी संभालेंगे। जिस व्यक्ति या वीआईपी को गनमैन दिया गया है, उसे बताए बगैर गनमैन कहीं नहीं जाएगा। सबसे अहम बात तो भाषा पर भी संयम रखना होगा, क्योंकि यह भी स्पष्ट किया गया है कि गनमैन की भाषा से किसी भी सूरत में पुलिस की छवि धूमिल ना हो।

जिसकी सुरक्षा में तैनात उसके घरेलू काम किए तो कार्रवाई/ Policeman Nappen

इस सम्बंध में जिला पुलिस कप्तान गंगाराम पूनिया से बात की तो उन्होंने पत्र की पुष्टि करते हुए कहा कि रोहतक रेंज के आईजी की हिदायतों के अनुसार सभी वीआईपी सुरक्षा में लगे गनमैन का उनके कर्तव्यों के प्रति आगाह किया गया है। उन्होंने बताया कि आम तौर पर गनमैन सुरक्षा मिलने वाले व्यक्ति के व्यक्तिगत एवं निजी और घरेलू कार्यों को करते हुए देखे जाते हैं, ऐसा करने वाले गनमैन के खिलाफ सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। इसे लिए सभी थाना प्रबंधकों को भी सख्त हिदायतें जारी कर दी गई हैं।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

 

लोकप्रिय न्यूज़

To Top