मानवता भलाई कार्य

नहीं जले चूल्हे तो दौड़े चले आए सेवादार

No, burnt, Burner, kota, help , dera, premi 

झुग्गी झौपड़ियों में भूखों को लंगर खिलाने की सेवा में जुटे सेवादार||No burnt burner

कोटा (सच कहूँ न्यूज)। हाड़ौती संभाग में पिछले दो दिनों से लगातार हो रही (No Burnt Burner) बरसात के कारण चारों तरफ पानी भर जाने से झुग्गी-झौंपडियों में रहने वालों के चूल्हे भी नहीं जल पाए। जिसके चलते उनके बच्चों के सामने भूखे मरने की नौबत आ गई है। ऐसे में डेरा सच्चा सौदा कोटा की शाह सतनाम जी ग्रीन एस वेलफेयर फोर्स विंग के सेवादारों ने एक बार फिर मानवता को भूखों मरता देखा तो जा पहुंचे कोटा की उन झौंपडियों में और लंगर खिलाने की सेवा में लग गये।

स्थानीय आश्रम पर एकत्रित होकर करवाया लंगर-भोजन|| No burnt Burner

सेवादार राजेन्द्र सिंह हाड़ा के अनुसार जैसे ही सेवादारों को पता लगा कि झौपड़ियों में रहने वालों को लगातार बरसात के कारण खाना भी नसीब नहीं हुआ तो डेरा सच्चा सौदा के पूज्य गुरू संत डा. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां द्वारा चलाये गये 133 मानवता भलाई के कार्यों में लग गये और सेवादारों ने बूंदी रोड स्थित स्थानीय आश्रम पर एकत्रित होकर लंगर-भोजन बनाया और शहर में अनेक जगह बनी झौंपडियों में पहुंचे और धन धन सतगुरू तेरा ही आसरा नारा लगाकर सैंकडों लोगों को गर्म लंगर खिलाया तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा।  सेवादार राजेन्द्र सिंह हाड़ा ने बताया कि गुरूजी के वचनानुसार सेवा करना हमारा कर्म है, हमारा धर्म है और इस धर्म को मरते दम तक निभाते रहेंगे। आगे भी बरसात होती रही तो सेवादार झौंपडियों और आवश्यक स्थानों पर जाकर उनको भोजन कराने का कार्य करेंगे।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top