पंजाब

आग लगने से झुलसी विवाहिता

Murder, Blame, In-Law's, Family
  • ससुर परिवार पर विवाहिता को आग लगाकर हत्या करने का आरोप, हालत गंभीर

पटियाला(खुशवीर सिंह तूर)। ससुराल परिवार द्वारा एक विवाहिता को आग लगाकर जलाने का मामला सामने आया है। उसे पहले यहां राजिन्द्रा अस्पताल में दाखिल करवाया गया व उस के बाद हालत गंभीर देखते उसे पीजीआई चण्डीगढ़ में रैफर कर दिया गया है।

22 वर्षीय रजनी बेटी अशोक कुमार निवासी गली नं: 3 नजदीक महेन्द्रा कॉलेज का दो वर्ष पहले ही नाभा के गांव छज्जूभट्ट में मेजर सिंह से विवाह हुआ था। रजनी के ताया सोम नाथ व जीजा हरजीत सिंह ने बताया कि विवाह के बाद ही उनकी लड़की को ससुराल परिवार द्वारा परेशान करना शुरू कर दिया था। उन्होंने बताया कि वह लड़की को कहते थे कि मोटरसायकल और दो लाख रुपये ले कर आए।

उन्होंने बताया कि वह ताने मारते थे कि आप बारात की सेवा सही नहीं की है। सोम नाथ ने बताया कि अभी लगभग दो सप्ताह पहला ही थाना कोतावाली में दोनों पक्षों में समझौता हुआ था जिसके बाद उसे ससुराल घर भेजा गया था, परंतु आज कुछ दिनों बाद ही उसे तेल डाल कर जला दिया गया।

राजिन्द्रा अस्पताल से पीजीआई किया रैफर

उन्होंने बताया कि आज सुबह उनको ससुराल परिवार में से फोन आया कि रजनी के दुपट्टे के पल्ले को आग लग गई और वह भी झुलसी गई। उन्होंने बताया कि यहां राजिन्द्रा अस्पताल में ईलाज के लिए लाया गया। डॉक्टरों द्वारा उसकी गंभीर हालत को देखते पीजीआई चण्डीगढ़ में रैफर कर दिया गया।

उन्होंने आरोप लगाया कि उस का पति, सास, ससुर, जेठ, जेठानी लड़की को बहुत परेशान करते थे और उन की तरफ से ही उसे आग लगाई गई है।

लड़की बयानों के बाद ही की जाएगी आगामी कार्रवाई : एसएचओ

इस संबंधी जब थाना सदर नाभा के एसएचओ बिक्कर सिंह के साथ बात की गई तो उन्होंने कहा कि वह पीजीआई चण्डीगढ़ में बयान लेने गए हैं और उस के बयानों के बाद ही आगामी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि उक्त लड़की की हालत नाजुक बनी हुई है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

FIFA 2018 World Cup