Breaking News

मोदी ने नाम लिए बगैर पाकिस्तान पर साधा निशाना

आतंक का गढ़ है ‘पड़ोसी’
जलवायु परिवर्तन के बीच स्थिरता को लेकर दोहराया दृढ़ संकल्प
पणजी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पाकिस्तान का नाम लिए बगैर अपने पड़ोसी मुल्क को आतंकवाद का प्रायोजक और संरक्षक करार दिया जिसका बलूच नेता नीला कादरी ने समर्थन किया है। मोदी ने यहां ब्रिक्स सदस्य देशों से इस आतंकवाद के खतरे के खिलाफ एकजुट होने का आह्वान करते हुए कहा कि दुख की बात यह है कि हमारा पड़ोसी देश ही आतंकवाद का प्रायोजक और संरक्षक है। पूरे विश्व भर में फैले आतंकवादी यहां से जुड़े हुए हैं। यह देश राजनीतिक फायदों के लिए आतंकवाद को उचित ठहराने वाली मानसिकता को बढ़ावा देता है। इससे पूरे क्षेत्र में शांति, सुरक्षा और विकास को खतरा पैदा हो गया है। इस बीच बलूचिस्तान की नेता और कार्यकर्ता नीला कादरी ने प्रधानमंत्री मोदी की इस बात का समर्थन करते हुए कहा कि पाकिस्तान आतंकवाद की जननी है। यह आतंकवाद को पैदा करता है तथा आतंकवादियों को हर तरह की मदद मुहैया कराता है। मोदी ने कहा कि आतंकवादियों और उनके समर्थकों को सम्मानित नहीं, बल्कि दंडित किया जाना चाहिए। आतंकवाद ने मध्यपूर्व, पश्चिम एशिया, दक्षिण एशिया और यूरोप को अपनी चपेट में ले लिया है और हमें इससे सतर्क रहने की आवश्यकता है। आतंकवाद नागरिकों की सुरक्षा और आर्थिक प्रगति के लिए गंभीर समस्या बन गया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम आतंकवाद की इस मानसिकता की आलोचना करते हैं। ब्रिक्स सदस्य देशों के रुप में हमें आतंकवाद के इस खतरे के खिलाफ एकजुट रहने तथा आवाज उठाने की सख्त जरुरत है। हमारी पारिस्थितिक खुशहाली और सफलता को सीधा खतरा आतंकवाद से ही है। हमें आतंकवाद के खिलाफ पारस्परिक सहयोग को लागू करने के लिए कदम उठाना होगा। मोदी ने जलवायु परिवर्तन से उत्पन्न चुनौतियों का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि भारत ने हाल में पेरिस समझौते का अनुमोदन कर दिया है। हम विकास और जलवायु परिवर्तन के बीच स्थिरता बनाए रखने को लेकर दृढ़ संकल्प हैं।
Agency

लोकप्रिय न्यूज़

To Top