[horizontal_news id="1" scroll_speed="0.1" category="breaking-news"]
हरियाणा

कुएं में मिला लापता व्यक्ति का शव, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

Dead Body, Well, Murder, Police, Haryana

चिकित्सकों के बोर्ड ने किया शव का पोस्टमार्टम

चरखी दादरी (सच कहूँ न्यूज)। गांव रामबास में शनिवार देर सांय से लापता एक व्यक्ति का शव रविवार सुबह गांव के ही एक कुएं से मिला है। शव पर चोटों के गहरे निशान होने के कारण परिजनों ने जहां गांव के ही एक परिवार पर हत्या का आरोप लगाया है वहीं पुलिस ने इस संबंध में फिलहाल इत्तफाकिया मौत का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

गांव रामबास निवासी मंदीप ने पुलिस को बताया कि उसके बड़े भाई सुनील को शनिवार सांय करीब 6 बजे गांव के ही एक व्यक्ति ने फोन करके अपने घर बुलाया था। जिस पर वह वहां चला गया। रात करीब 11 बजे उक्त लोगों का उसके पास फोन आया कि सुनील घर आ चुका है या नहीं। जिस पर उसने मना किया तो आरोपियों ने कहा कि सुबह पता चल जाएगा। जिससे अज्ञात आशंका के चलते वे रात्रि में उक्त व्यक्ति के घर गए तथा अपने भाई के बारे में पूछताछ की। जिस पर उन्होंने उसके भाई पर ही 50 हजार रुपये चोरी करने का आरोप लगाना शुरू कर दिया। उक्त लोगों ने कहा कि उसका भाई उनकी बाइक के वाइजर में रखे पैसे चोरी करके भाग गया है। उसका कुर्ता व मोबाइल उनके पास है। जिसके बाद वे काफी देर तक उसकी तलाश करते रहे लेकिन वह कहीं नहीं मिला।

पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंपा

मंदीप ने बताया कि सुबह सुनील की पत्नी दर्शना उक्त आरोपियों के घर फिर से गई तथा दोबारा उसके बारे में पूछताछ की। जिस पर उन्होंने दर्शना के साथ भी मारपीट की तथा जान से मारने की धमकी देकर उसे वहां से भगा दिया। जिसके बाद वे लगातार सुनील की तलाश करते रहे। इसी दौरान उन्हें आरोपियों के घर के समीप ही बने एक कुएं में शव मिलने का पता चला। वे तुरंत वहां पहुंचे तथा शव को बाहर निकलवाया तो वह गायब सुनील का ही मिला। जिसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची तथा जांच शुरू कर दी। पुलिस ने इस संबंध में फिलहाल इत्तफाकिया मौत का मामला दर्ज कर चिकित्सकों के पैनल से शव का पोस्टमार्टम करवाकर अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिया।

मृतक सुनील के भाई मंदीप ने बताया कि उसके भाई को आरोपियों ने साजिश के तहत अपने घर बुलाकर निर्ममता से उसकी पिटाई करने के बाद हत्या कर दी। बाद में उन्होंने मामले को दूसरा रंग देने के लिए शव को कुंए में फेंक दिया। मंदीप ने बताया कि उसके भाई के चेहरे व शरीर के अन्य हिस्सों पर चोटों के निशान के अलावा गर्दन पर भी गला दबाने के निशान है। सुनील के दोनों हाथ व पांव भी तोड़े गए है। उस पर चोरी का झूठा इल्जाम लगाया जा रहा है।
मामले के जांच अधिकारी आदमपुर पुलिस चौकी इंचार्ज विक्रम सिंह ने बताया कि पुलिस इस मामले में गंभीरता से जांच कर रही है। चिकित्सकों के बोर्ड द्वारा शव का पोस्टमार्टम करवाया गया है ताकि मौत के सही कारणों का पता लग सके।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top