[horizontal_news id="1" scroll_speed="0.1" category="breaking-news"]
हरियाणा

गरजे व्यापारी, फूंका पुतला

Merchants, Strike, GST, Raised, Haryana

जीएसटी के विरोध में एशिया की सबसे बड़ी शोरी क्लॉथ मार्केट बंद

रोहतक (सच कहूँ न्यूज)। कपड़े पर पांच प्रतिशत जीएसटी लगाए जाने के विरोध में एशिया की सबसे बडी शोरी क्लॉथ मार्केट वीरवार को बंद रही। कपड़ा व्यापारियों ने काले बिल्ले लगाकर केन्द्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और भिवानी स्टैंड पर केन्द्रीय वितमंत्री का पुतला फूंका। व्यापारियों का कहना था कि इस पांच फीसदी टैक्स से कपड़ा व्यापारियों को व्यापार ठप्प हो जाएगा।

साथ ही व्यापारियों ने कहा कि भाजपा सरकार व्यापारियों को बर्बाद करने पर तुली है। पहले ही व्यापारी व्यापार न होने के कारण परेशान है और ऊपर से सरकार व्यापारियों पर टैक्स थोप कर परेशान कर रही है।

जीएसटी का लेखा जोखा रखने के लिए हर व्यापारी को अलग से एकाउटेन्ट रखना पडेगा

इस मौके पर गुलशन ईश्पुनियानी ने कहा कि एक माह में तीन रिटर्न भरनी पड़ेगी, पहला माल खरीदने परने पर दूसरा माल बेचने पर तीसरा बैलेंस स्टाक पर कारोबारी जीएसअी में उलझा रहेगा। साल में एक सालाना रिटर्न के साथ कुल 37 रिटर्न भरनी पड़ेगी। अभी तक कपड़े पर केवल इंकम टैक्स ही लगता था। जीएसटी का लेखा जोखा रखने के लिए हर व्यापारी को अलग से एकाउटेन्ट रखना पडेगा।

एकाउटेन्ट के खर्चे के साथ साल में इतनी रिटर्न भरने के लिये सी ए का खर्च भी बहुत भारी हो जाएगा। उन्होंने कहा कि जीएसटी एक भयावह टैक्स हैं। आजादी से लेकर अभी तक कफ न पर टैक्स नहीं लगा, अब कफ न पर भी सरकार ने टैक्स लगाया हैं, जो कि व्यापारी विरोधी होने का सबूत है। जीएसटी से कपड़ा व्यापार बंद होने के कगार पर आ जाएगा।

प्रदर्शनकारियों में मनीष कुमार, रामनाथ सचदेवा, नरोत्तम दास चावला, अशोक गर्ग, अंशिम सिंधवानी, बंटी भालोठिया, दीपक बंसल, जवाहर परूथी, मुंकद लाला, ईश्वर आहुजा, ईश्वर चंद गुप्ता, राजेन्द्र मगगू, सतीश गर्ग, कमल परूथी, विनीत जैन, मीटू अनेजा, पंकज मिगलानी, हरीश अरोड़ा, दीपक बंसल, सुरेश सिंगल, रविन्द्र बंसल, अशोक गर्ग, नंदलाल तनेजा व राजेन्द्र कुमार मौजूद रहे।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top