[horizontal_news id="1" scroll_speed="0.1" category="breaking-news"]
पंजाब

मानसिक रोगी को हथियारों सहित दबोचा

Mental Patient, Arrested, Weapons, Police, Punjab

कथित दोषी को हर समय रहता था युद्ध लगने का डर

  • रात को हथियार साथ लेकर सोता था मानसिक रोगी

संगरूर (गुरप्रीत सिंह)। संगरूर पुलिस ने हथियारों सहित पकड़े एक व्यक्ति की पूछताछ के बाद एक हैरानीजनक मामला सामने आया है कि यह हथियार उसने किसी अपराधिक घटना को अंजाम देने के लिए इकठ्ठा नहीं किया था, बल्कि कथित दोषी मानसिक रूप से परेशान था। उसे हर वक्त यह डर बना रहता था कि जल्द ही युद्ध होने वाला है। यदि हथियार उसके पास न हुए तो दुश्मन उसे मौत के घाट उतार देंगे। इसी डर के कारण उसने लाखों रुपए खर्च कर लाइसेंस व गैर-लाईसेंसी हथियार अपने पास इक्ट्ठे कर लिए थे। पत्रकारों को जानकारी देते हुए जिला पुलिस प्रमुख मनदीप सिंह सिद्धू ने बताया कि पुलिस को गुप्त तौर पर यह सूचना मिली थी कि थाना धर्मगढ़ के गांव हरियाऊ का निवासी जसविन्दर सिंह अपने पास बड़ी संख्या में हथियार इक्ट्ठे किए बैठा है।

खेत में छिपाकर रखे थे हथियार

पुलिस ने सूचना के आधार पर जब उक्त गांव में छापामारी की तो सचमुच पुलिस ने उससे बड़ी मात्रा में हथियार बरामद किए। उन्होंने बताया कि जब इस गंभीर मामले की जांच दौरान पुलिस ने जसविन्दर सिंह से पूछताछ की तो उससे एक ओर पिस्तौल देसी कट्टा 315 बोर व एक सिंगल बैरल गन 315 बोर और 3 कारतूस उसके खेत में बनी अलमारी से बरामद किए।

ये हथियार पकड़े

पूछताछ दौरान जसविन्द्र सिंह ने बताया कि यह तीन अवैध हथियारों सहित 5 कारतूस वह बरेली (यूपी) से 45 हजार रुपए में खरीदकर लाया था। इसके अलावा लाईसेंसी हथियार भी है जिसमें डबल बैरल गन्न 315 बोर, एक पिस्तौल 32 बोर सहित 60 कारतूस हैं।

नशे का आदी था जसविन्द्र

एसएसपी सिद्धू ने बताया कि जांच दौरान गांव में मौजूदा कोई रंजिश वाली बात सामने नहीं आई लेकिन यह बात कथित दोषी के दिमाग की सोच बन चुकी थी कि उसके पास हथियार न हुआ तो उसको कोई नुक्सान पहुंचा सकता है। दोषी पहले नशे का आदी थी और अब करीब ढाई महीने से वह नशा छोड़ने की दवा ले रहा है। पुलिस ने सभी हथियारों को अपने कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी।

मानसिक रोगी जसविन्दर सिंह (38) के पास 18 एकड़ जमीन थी जिसमें से तीन एकड़ उसने बेच दी थी और मौजूदा समय उसके पास 15 एकड़ जमीन भी है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top