सम्पादकीय

विरासत की संभाल करना सीखें

इस बात में कोई दो राय नहीं कि भारतीय लोग इतिहास रच सकते हैं, लेकिन संभाल नहीं सकते। इतिहास-विरासत किसी राष्ट्र  की शान होते हैं, जो आने वाली पीढ़ी को अपने पूर्वजों की बुद्धि, कौशल और जीवन शैली का ज्ञान करवाते हैं। लंबे समय तक भारतीयों ने अपनी विरासत का अपमान किया है। अनमोल विरासत की अरबों-खरबों रुपए की वस्तुएं चोर-बेईमान चोरी करने में कामयाब रहे और यह वस्तुएं दुनिया के विभिन्न देशों में बिकने के लिए पहुंच गई। इस बात का श्रेय जरूर मोदी सरकार को जाता है कि वह चोरी की गई इन बहुमूल्य वस्तुओं को वापिस लाने का प्रयास कर रहे हैं। ताजा मामले में आॅस्ट्रेलिया के म्यूजियम में सजी हुई महात्मा बुद्ध की 2000 साल पुरानी मूर्ति वापिस लाई जा रही है, जो 10 साल पहले चोरी हो गई थी। इसी साल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अमेरिका से 200 भारतीय अनमोल कलाकृतियां वापिस लेकर आए हैं, जो चोरी होकर अमेरिका पहुंच गई थी। दरअसल हमारे देश में राष्ट्रीय सम्पत्ति की संभाल की बड़ी कमी रही है, वरना सख्त और अनगिनत कर्मचारियों की पहरेदारी में यह वस्तुएं चोरी कैसे हो जाएं! कर्मचारी के दिल में यदि अपने राष्ट्र  के प्रति प्रेम की भावना हो, तो वह राष्ट्रय विरासत को चोरी कैसे होने देंगे। इस मामले में शिमला के एडवांस स्टडी इंस्टीट्यूट की मिसाल भी विचारणीय है। इस ऐतिहासिक इमारत में आठ धातुओं की बनी अनोखी घंटी सन् 2010 में चोरी हो गई। नेपाल ने यह घंटी सन् 1903 में भारतीय वायस राय को तोहफे के तौर पर भेंट की थी। अंग्रेजों ने 1947 तक इस घंटी की पूरी संभाल की, लेकिन स्वतंत्र भारतीयों के पास यह घंटी चोरी हो गई। मामला हाईकोर्ट पहुंच गया और जांच सीबीआई को सौंपी गई, फिर भी यह घंटी हाथ नहीं लगी। यही हाल हमारी ऐतिहासिक इमारतों का भी है। ऐतिहासिक किले, हवेलियां, बुर्ज खंडहर बनते जा रहे हैं। यदि इनकी पूरी संभाल की जाए, तो यह जहां नई पीढ़ी का रक्षा कवच बनेगा, वहीं उद्योग को भी प्रफुलित करेगा। देश की उज्जवल राष्ट्रीय विरासत को बचाने के लिए गंभीर और वचनबद्ध होने की जरूरत है। भौतिक सफलता चाहे हम कितनी मर्जी कर लें, लेकिन विरासत की संभाल के बिना हम कमजोर ही रहेंगे। देश को आजादी दिलवाने और तरक्की के रास्तों पर लाने वाली महान् शख्सियतों से संबंधित चीजों को संभालने के साथ-साथ इनकी जानकारी नई पीढ़ी तक पहुंचाने की अत्यंत आश्यकता है।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top