पंजाब

मेडिकल रिसर्च के काम आएगी लक्ष्मी देवी इन्सां की मृतक देह

Laxmi, Devi, insan, Dead, Body, Used, Medical, Research

 बेटियों व पुत्र वधू ने अर्थी को कंधा देकर बेटा-बेटी का भेदभाव को मिटाया

Laxmi Devi insan dead body will be used for medical research

पातडां, सच कहूँ-भूषन सिंगला। ले के कहां कुछ वापिस जाना ये शरीर भी दान है…ये कोई जुमला नहीं बल्कि हकीकत है। मानवता भलाई के सिरमौर सर्व धर्म संगम डेरा सच्चा सौदा के श्रद्धालु की। पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इंन्सा की पावन प्रेरणा पर चलते हुए डेरा अनुयायी जीते जी तो मानवता भलाई के लिए आगे रहते ही हैं, लेकिन मरने के बाद इंसानियत के लिए ऐसी मिसाल दे जाते हैं कि हर कोई उन्हें सलाम् करता है। (Laxmi Devi insane dead body will be used for medical research) ऐसा ही कर कर दिखाया है टिब्बा बस्ती की निवासी लक्ष्मी देवी इन्सां ने। जिसने मरणोपरांत मेडिकल रिसर्च के लिए अपना शरीर दान कर इंसानियत का फर्ज अदा किया। उनका पार्थिव शरीर रिसर्च के लिए राजिन्दरा हस्पताल पटियाला दान किया गया।

पूज्य गुरु जी द्वारा चलाई इस रीत को देखकर गांव के लोग हैरान

Laxmi Devi insan dead body will be used for medical research

इस अवसर पर आॅल इंडिया कार डीलर एसो. पंजाब के प्रधान जगदीश राय पप्पू,आल इंडिया हिंदु शिव सेना के राष्ट्रीय प्रधान रमेश कुमार, अग्रवाल सभा के प्रधान सुरिन्दर कुमार और प्रसिद्ध समाज सेवक सोनू मित्तल आदि ने विशेष तौर पर पहुंच कर एंबूलेंस को विदा किया। वहीं उनकी अर्थी को बेटी व पुत्र वधु ने कन्धा देकर समाज को बेटा-बेटी के भेदभाव को मिटाने का संदेश दिया। पूज्य गुरु जी द्वारा चलाई इस रीत को देखकर गांव के लोग हैरान थे। इस मौके पर बड़ी संख्या में ब्लॉक की साध-संगत व शाह सतनाम जी ग्रीन एस वेल्फेयर फोर्स विंग के सेवादार मौजूद थे।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top