Breaking News

विदेशों से मनीआर्डर पाने में भारत अव्वल

Switzerland, Approval, Exchange Information, Black Money, India

संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट में हुआ खुलासा

न्यूयार्क (एजेंसी)। दुनिया भर में काम करने वाले भारतीयों ने बीते साल 62.7 अरब डालर स्वदेश भेजे, जो इसी अवधि में चीन समेत किसी अन्य देश को मिले विदेशी विमनी-आर्डर में सबसे ऊपर रहा। संयुक्त राष्ट्र की इकाई कृषि विकास के लिए अंतरराष्ट्रीय कोष आईएएफएडी ने अपने एक अध्ययन में यह निष्कर्ष निकाला है।

इसके अनुसार वैश्विक स्तर पर विभिन्न देशों के कुल लगभग 20 करोड़ प्रवासियों ने 2016 में अपने अपने घरों को कुल 445 अरब डालर धन प्रेषित किया। इससे दुनिया में लाखों लोगों को गरीबी रेखा से बाहर आने में मदद मिली। रपट में कहा गया है कि बीते दशक में रेमिटेंस प्रवाह औसतन 4.2 प्रतिशत वार्षिक की दर से बढ़ा है और यह 2007 में 296 अरब डालर से बढ़कर 2016 में 445 अरब डालर हो गया। अपनी तरह के इस अध्ययन में 2007 से 2016 के दस साल में विस्थापन व रेमिटेंस प्रवाह का विश्लेषण किया गया है।

2016 में विश्वभर में 20 करोड़ प्रवासियों ने अपने घरों को कुल 445 अरब डालर भेजे।

कुल मनी आर्डर का 80 प्रतिशत धन भारत, चीन, फिलीपीन, मैक्सिको और पाकिस्तान सहित 23 देशों को मिला।

सर्वाधिक मनी आर्डर अमेरिका, रूस और सऊदी अरब से भेजे गए।

किस देश को मिला कितना धन

  • भारत                                 62.7 अरब डालर
  • चीन                                     61 अरब डालर
  • फिलीपीन                            30 अरब डालर
  • पाकिस्तान                           20 अरब डालर

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top