पंजाब

शर्तें पूरी न की तो निजी संस्थानों की मान्यता होगी रद्द

private institutions

तकनीकी शिक्षा मंत्री ने की निजी संस्थानों के मुखियों से साथ बैठक

चंडीगढ़। private institutions गुणात्मक तकनीकी शिक्षा प्रदान करवा कर आधुनिक दौर की विश्व स्तरीय जरूरतों के अनुसार विद्यार्थियों को तैयार करना ही मापदंड होगा।

private institutions कोई समझौता नहीं होगा

निजी तकनीकी संस्थानों का सरकार के भरोसे पर खरा उतरने के लिये पंजाब के तकनीकी शिक्षा मंत्री चरनजीत सिंह चन्नी ने बहुत ही स्पष्ट शब्दों में निजी संस्थानों के मुखियों से बैठक करके साफ कर दिया है कि गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने में किसी के साथ भी कोई समझौता नहीं किया जाएगा। ना ही किसी को रियायत दी जाएगी।

लगातार चलेगा चैकिंग अभियान

तकनीकी शिक्षा मंत्री ने कहा कि आॅल इंडिया तकनीकी शिक्षा कौंसिल द्वारा और पंजाब सरकार द्वारा तय किये मापदंडों पर यदि कोई तकनीकी शिक्षा संस्थान खरा नहीं उतरता तो उसके विरूद्ध बिना देरी के कार्रवाई की जााएगी और किसी को भी नवयुवकों के भविष्य से खिलवाड़ नही करने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि तकनीकी शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों द्वारा निजी संस्थानों की निरंतर चैकिंग की जाएगी।

कमी छोड़ने वाले अधिकारी भी नपेंगे

यदि किसी संस्थान में कोई कमियां पाई गई तो उनके खिलाफ कार्रवाई मौके पर ही की जाएगी।  इसके साथ ही तकनीकी शिक्षा मंत्री ने कहा कि विभागीय अधिकारियों द्वारा यदि कमियां होने के बावजूद कार्रवाई ना की गई और उनके द्वारा निजी दौरे के दौरान कोई कमी किसी संस्थान में पाई गई तो संस्थान के साथ-साथ चैकिंग करने वाले विभाग के अधिकारियों विरूद्ध भी कार्रवाई की जाएगी।

private institutions बॉयोमीट्रिक उपस्थिति यकीनी बनाने के आदेश

स. चन्नी ने एक अह्म फैसला लेते हुये निजी तकनीकी शिक्षा संस्थानों में फर्जी प्रवेश रोकने के लिये विद्यार्थियों की बॉयोमीट्रिक उपस्थिति यकीनी बनाने के आदेश जारी किये गये हैं। उन्होंने कहा कि इसके लागू होने से जहां विद्यार्थियों के फर्जी प्रवेश को रोका जा सकेगा वही विद्यार्थियों की उपस्थिति भी विश्वसनीय होगी।

उन्होंने साथ ही कहा कि इस सिस्टम को निजी संस्थानों द्वारा तकनीकी शिक्षा विभाग के मुख्यालय से जोड़ा जाएगा जहां विभाग द्वारा इनकी आॅनलाईन निगरानी की जाएगी। तकनीकी शिक्षा मंत्री ने स्पष्ट किया कि निजी संस्थानों में प्रवेश आनलाइन ही किए जायें, निर्धारित समय और तय सीटों से अधिक किये प्रवेश रद्द कर दिये जाएंगे।

चन्नी ने कहा कि निजी संस्थान में यूजीसी और एआईसीटी की तय शर्तों अनुसार अध्यापकों की भर्ती यकीनी बनाने तथा शिक्षा के व्यापारीकरण की बजाए गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने में बल दें।

private institutions एससी छात्रवृतियों का सही लाभ ना देने पर कार्रवाई के आदेश

गैर सहायता प्राप्त तकनीकी शिक्षा संस्थानों के मुखियों से बैठक के दौरान तकनीकी शिक्षा मंत्री ने तकनीकी शिक्षा का स्तर उंचा उठाने के लिए सरकारी और निजी संस्थानों के प्रतिनिधियों की सलाहकार कमेटी का गठन करने का फैसला भी किया।

इसके अतिरिक्त इस बात पर भी सहमति जताई गई कि नवयुवकों को रोजगार दिलाने के लिये निजी संस्थान तथा तकनीकी शिक्षा विभाग द्वारा संयुक्त तौर पर नौकरी मेले आयोजित किए जाएंगे।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top