राज्य

हुड्डा ने अपने रिश्तेदारों को दे रखा था कंप्यूटर टीचर भर्ती का ठेका

Jaat Reservation

माना, जाट आंदोलन (Jaat Reservation) हिंसा के दौरान जो करना था नहीं कर पाई सरकार

रोहतक(नवीन मलिक)। प्रदेश के शिक्षा मंत्री ने माना कि जाट आरक्षण (Jaat Reservation) आंदोलन के दौरान जो हिंसा हुई उसे रोकने के लिए सरकार ने जो करना था वह नहीं कर पाई। उन्होंने जाटों द्वारा फिर से आंदोलन शुरू करने को लेकर भी प्रतिक्रिया दी और कहा कि कानून को किसी भी कीमत पर हाथ में नहीं लेने दिया जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा कि अब जल्द ही यशपाल मलिक के खिलाफ भी कार्रवाई जाएगी।

डॉ. अशोक तंवर की यात्रा को बताया जनभ्रांति यात्रा

उन्होंने पूर्व सीएम भूपेन्द्र सिंह हुड्डा व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर की यात्रा को लेकर भी निशाना साधा और कहा कि वे प्रदेश में जनभ्रांति यात्राएं कर रहे हैं।

प्रदेश के सरकारी स्कूल एजुसेट सिस्टम को लेकर शिक्षा मंत्री ने कहा कि पूर्व सीएम हुड्डा ने अपने रिश्तेदारों को ठेका दे रखा था और वह कम्पनी 72 करोड़ रुपए लेकर फरार हो गई। कम्पनी पर कारवाई के सवाल पर शिक्षा मंत्री कोई भी जबाव नहीं दे पाए। इसके अलावा जाट आरक्षण (Jaat Reservation) हिंसा में पूर्व सीएम भूपेन्द्र सिंह हुड्डा की भूमिका के आरोप पर चुप्पी साध ली और कहा कि प्रदेश की जनता को पता है कि हिंसा किसने करवाई थी। शनिवार को शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा रोहतक पहुंचे और उन्होंने कांवड़ शिविर में जाकर कावडियों से मुलाकात की। इस अवसर पर सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर, जिला अध्यक्ष अजय बंसल, शमशेर खरक, आजाद सिंह अत्री प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

किसी भी सूरत में नहीं बिगड़ने देंगे हालात

फिर से जाट आरक्षण आंदोलन को लेकर पूछे गए सवाल पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार किसी भी सूरत में स्थिति नहीं बिगड़ने देगी। साथ ही उन्होंने कहा कि वर्ष 2016 में जो हिंसा हुई थी, प्रदेश की जनता को सब पता है कि किसने हिंसा करवाई थी और पूर्व मुख्यमंत्री के तो एक सलाहकार की भूमिका संदिग्ध पाई गई थी, लेकिन शिक्षा मंत्री इस बात का जबाव नहीं दे पाए कि दो साल बीतने के बावजूद भी सरकार इस मामले में आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट तक पेश नहीं कर पाई है।

Jaat Reservation

पत्रकारों से बातचीत करते हुए शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

 

लोकप्रिय न्यूज़

To Top